Monday, August 15, 2022
Monday, August 15, 2022
HomeUpcoming IPOLIC के शेयरों में गिरावट से अब सरकार भी हुई चिंतित, DIPAM...

LIC के शेयरों में गिरावट से अब सरकार भी हुई चिंतित, DIPAM के सेक्रेटरी पांडे ने कहा, गिरावट अस्थायी, बढ़ाएगा शेयरधारकों की वैल्यू

LIC Share Fall 

इंडिया न्यूज,नई दिल्ली। 

जिस हिसाब से देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम के आईपीओ को निवेशकों ने अच्छा रिपॉन्स दिया था। उस हिसाब से एलआईसी के शेयर निवेशकों को अच्छा रिपॉन्स नहीं दे रहे हैं। शेयर बाजार में डिस्कॉउंट के साथ लिस्ट हुए एलआईसी शेयर में तब से लगातार गिरावट चल रही है। इसका शेयर हर दिन एक नया लो बना रहा है। इससे निवेशक के साथ अब सरकार भी चिंतित हो गई है। एलआईसी का शेयर कल गिरावट के साथ 709.70 रुपये के भाव पर बीएसई पर बंद हुआ है। हालांकि इस गिरावट को सरकार की ओर से अस्थायी करार दिया गया है।

कल बाजार में 708 रुपए पर हुआ लिस्ट

17 मई को शेयर बाजार में एलआईसी 949 रुपये के इश्यू प्राइस के मुकाबले 872 रुपए पर छूट के साथ लिस्ट हुआ था। कल बाजार में  एलआईसी का शेयर 708 रुपए तक गिरा। बाद में यह 709.70 रुपए पर बंद हुआ। लिस्टिंग से लेकर अब तक एलआईसी से शेयर 25 फीसदी टूट चुके हैं और अपने इश्यू प्राइज तक नहीं पहुंच पा रहे हैं। इस गिरावट पर डिपार्टमेंट ऑफ इन्वेस्टमेंट एंड पब्लिक एसेट

LIC शेयरो में गिरावट पर DIPAM के सेक्रेटरी पांडे ने कही यह बात

मैनेजमेंट (DIPAM) के सेक्रेटरी तुहिन कांता पांडे ने एक बयान जारी किया है। इस बयान में उनका कहना है कि ‘हम LIC के शेयर की कीमत में आई अस्थायी गिरावट से बहुत चिंतित हैं। उन्होंने कहा कि लोगों को LIC के फंडामेंटल्स को समझने में समय लगेगा। LIC मैनेजमेंट इन सभी पहलुओं पर गौर करेगा और शेयरधारकों की वैल्यू को बढ़ाएगा।

एंकर निवेशक लॉ पीरियड भी है गिरावट की वजह

एंकर निवेशकों का लॉक इन पीरियड बना रहा दबाव एंकर निवेशकों का लॉक इन पीरियड में से भी एक है। एंकर निवेशकों का लॉक पीरियड 13 जून को खत्म हो रहा है,जिसके बाद वे अपने शेयर बेचे सकेंगे। दरअसल, आम निवेशकों के निवेश के एक दिन पहले आईपीओ में एंकर निवेशक अपना पैसा लगाते हैं। वह आईपीओ लिस्टिंग वाले दिन शेयर नहीं बेच सकते हैं। इसके लिए उन्हें 30 दिनों  तक इंतजार करना पड़ता है। यही वजह एलआईसी के शेयरों में गिरावट भी मानी जा रही है। सोमवार को एंकर निवेशको की लॉक पीरियड समाप्त हो रहा,जिसके बाद वह शेयर की बिक्री करेंगे, तब यह देखना होगा कि क्या एलआईसी के शेयरों में उछाल आता है या फिर गिरावट का दौरा ऐसा ही चलता रहेगा।

निवेशकों के अब तक  डूब चुके 1.50 लाख करोड़ रुपया

आईपीओ के दौरान एलआईसी का वैल्यूएशन 6 लाख करोड़ रुपये आंका गया था। हालांकि इसके शेयर में गिरावट के चलते यह अब इसका  वैल्यूएशन 4.50 लाख करोड़ रुपये रहा गया है। लिस्टिंग लेकर अब तक एलआईसी के शेयरो ने निवेशकों के 1.50 लाख करोड़ घटा दिये हैं। आपको बता दें एलआईसी की शेयर बाजार में 9फीसदी छूट के साथ लिस्ट हुआ था।

संंबंधित खबरें:

दलाल स्ट्रीट में लिस्टिंग के पहले दिन LIC ने निवेशकों को रूलाया, डिस्काउंट पर शेयर हुआ लिस्ट, एक्सपर्ट ने कही यह बात

ये पढ़ें: पीएम मोदी ने किया बायोटेक स्टार्टअप एक्सपो-2022 का उद्धाटन, कहा: भारत बायोटेक के टॉप-10 देशों की लीग में पहुंचने से नहीं ज्यादा दूर

Connect With Us: Twitter | Facebook Youtube

SHARE
Koo bird

MOST POPULAR