Friday, October 7, 2022
Friday, October 7, 2022
HomeTop NewsRussia Ukraine War Day 31 : रूस ने तैनात की परमाणु पनडुब्बियां,...

Russia Ukraine War Day 31 : रूस ने तैनात की परमाणु पनडुब्बियां, यूक्रेन को जर्मनी से मिली एंटी एयरक्राफ्ट मिसाइलें

Russia Ukraine War Day 31

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली:
रूस और यूक्रेन की जारी जारी जंग को आज 31 दिन हो चुके हैं। रूसी सेना लगातार यूक्रेन में तबाही मचा रही है। अब तक रूस के हमलों में सैनिकों व आम लोगों के अलावा यूक्रेन के 136 बच्चों की भी मौत हो चुकी है।

वहीं अब रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने उत्तर अटलांटिक महासागर में परमाणु पनडुब्बियां उतार दी हैं। रूस की ये पनडुब्बियां 16 बैलिस्टिक मिसाइलें ले जाने में सक्षम हैं। बता दें कि पुतिन पहले ही न्यूक्लियर डिटरेंट फोर्सेज को अलर्ट पर रहने का आदेश दे चुके हैं।

उधर अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने भी एक दिन पहले नाटो सम्मेलन में कहा था कि रूस के रासायनिक हमले करने की आशंका है। अत: ये जंग के और तेज होने के आसार है। वहीं जर्मनी से 1,500 स्ट्रेला एंटी-एयरक्राफ्ट मिसाइलों और 100 MG3 मशीनगन्स की एक खेप यूक्रेन पहुंची है।

यूक्रेन की स्वास्थ्य सुविधाओं को खत्म करने पर अमादा रूस : डब्ल्यूएचओ

रूस यूक्रेन की स्वास्थ्य सेवाओं  (ukraine health services) को खत्म करने पर तुला है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने यह जानकारी दी है। इसके अनुसार रूस अब तक 70 से ज्यादा हमले यूक्रेन की हेल्थ सेवाओं पर कर चुका है। अस्पताल, स्वास्थ्य से जुड़े परिवहन, स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी आदि को निशाना बनाया है। डब्ल्यूएचओ क ेअनुसार इन हमलों में स्वास्थ्य सेवाओं में जुटे 71 लोगों की मौत हो गई और 37 लोग जख्मी हुए हैं। हताहतों में डॉक्टर और मरीज दोनों शामिल हैं।

जेनेवा संधि के तहत अस्पताल पर नहीं किए जा सकते हमले

रूस-यूक्रेन जंग पर जेनेवा संधि लागू होती है। द्वितीय विश्व युद्ध के बाद जेनेवा संधि (Geneva conventions) में नागरिकों व सैन्य कर्मियों के मूल अधिकार निर्धारित किए गए हैं। इसी के साथ घायलों और रोगियों के लिए सुरक्षा स्थापित करने का रूस बनाया था।

एक रिपोर्ट के मुताबिक 1954 में तत्कालीन सोवियत संघ ने इसकी पुष्टि भी की थी। संधित के अनुच्छेद 18 के तहत, नागरिक अस्पताल पर किसी भी परिस्थिति में हमले नहीं किए जा सकते हैं। इस नियम के उल्लंघन पर अंतर्राष्ट्रीय आपराधिक न्यायालय इसकी जांच कर सकता है। जांच युद्ध अपराधी पाने पर केस चलाया जा सकता है और दोषी को दंडित किया जा सकता है।

Also Read : 4 दिन में 2.40 रुपए बढ़ी पेट्रोल की कीमत

Also Read : चेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स का पहला मुकाबला आज शाम 7 बजे

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

SHARE
Koo bird

MOST POPULAR