Friday, January 27, 2023
Friday, January 27, 2023
HomeBusinessछोटे दुकानदारों को Flipkart व Amazon की दादागिरी से निजात दिलाने के...

छोटे दुकानदारों को Flipkart व Amazon की दादागिरी से निजात दिलाने के लिए आया  ONDC, 5 शहरों में शुरू

- Advertisement -

इंडिया न्यूज,नई दिल्ली। 

देश के ई-कॉमर्स बाजार में Flipkart और Amazon को टक्कर देने का मन अब केंद्र सरकार ने भी बना लिया है। लगातार Flipkart और Amazon देश के छोटे दुकानदारों के साथ भेदभाव कर रही हैं। देश में इन छोटे दुकानदारों की शिकायत को देखते हुए और उनका समाधान करने के लिए अब सरकार ने एक नया ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म (new e-commerce platform) बनाया है। हालांकि अभी इसको पायलट बेसिस पर शुरुआत की गई है। बाद में इसे धीरे-धीरे लागू किया जाएगा।

इन शहरों में शुरू

सरकार ने ओपन नेटवर्क फॉर डिजिटल कॉमर्स (ONDC) के नाम पर ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म बनाया है। ONDC को अभी देश के 5 शहरों में पायलट बेसिस पर शुरू किया गया है और यह डिजिटल पेमेंट के लिए तैयार किए गए UPI टाइप प्रोटोकॉल की तरह है। ONDC ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म को दिल्ली-एनसीआर, बेंगलुरू, कोयंबटूर, शिलॉन्ग और भोपाल के शहरों के करीब 150 रिटेलर्स को जुड़ा गया है।

150 रिटेलर्स को जोड़ा गया अभी

वाणिज्य मंत्रालय के तहत काम करने वाले उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्द्धन विभाग (DPIIT) में अतिरिक्त सचिव अनिल अग्रवाल ने कहा कि ONDC से 5 शहरों के जिन 150 रिटेलर्स एड किया गया है। उसमें हम यह देखना चाहते हैं कि ये काम कैसा कर रहा है। यह सही तरीके से पेमेंट,ऑर्डर, ऑर्डर कैंसल और डिलीवरी कर रहे है कि नही। उन्होंने कहा कि हमारे पास बड़ी संख्या में रिटेलर्स और टेडर्स के साथ लॉजिस्टिक पार्टनर्स को इससे जोड़ा जा रहा है।

ONDC होगा गेम चेंजर

इस पर वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि यूपीआई के बाद, वाणिज्य क्षेत्र के लोकतांत्रिकरण का एक और गेम चेंजर आईडिया है ONDC। यह प्लेटफॉर्म ग्राहकों को सेलर और लॉजिस्टिक प्रोवाइडर्स चुनने की आजादी देगा।

ऐसे करेगा ONDC काम

ONDC एक तरह की ओपन रजिस्ट्री होगी। इससे देश के छोटे दुकानदार अपने आप को इस पर रजिस्टर करा सकेगा। इसका सबसे ज्यादा लाभ उन करोड़ों छोटे दुकानदारों को होगा, जो अभी तक ई-कॉमर्स इकोसिस्टम का हिस्सा नहीं बन पाए हैं। सबसे बड़ी खास बात यह है कि किसी रिटेलर को ऑनलाइन मार्केट में सामान बेचने के लिए खुद के अलग-अलग ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर रजिस्टर नहीं कराना होगा। सरकार ने 2021 के दिसबंर माह से इस पर काम शुरू किया

ये भी पढ़ें : लगातार दूसरे दिन हरे निशान पर खुला बाजार, सेंसेक्स 250 अंक ऊपर, निफ्टी 17300 के पार

ये भी पढ़ें : अमेरिकी डॉलर की मजबूती की वजह से रुपया ने किया सीमित दायर में कारोबार

Connect With Us: Twitter | Facebook Youtube

MOST POPULAR