Thursday, October 6, 2022
Thursday, October 6, 2022
HomeTop Newsएक्साइज ड्यूटी को घटाने का मुख्यमंत्रियों ने किया केंद्र सरकार के फैसले...

एक्साइज ड्यूटी को घटाने का मुख्यमंत्रियों ने किया केंद्र सरकार के फैसले का स्वागत, बघेल ने की UPA वाली एक्साइज ड्यूटी की मांग

इंडिया न्यूज, New Delhi: Excise Duty Duts On Petrol-Diesel: महंगाई  से त्राहिमाम कर रहे देशवासियों को राहत देने के लिए केंद्र की मोदी सरकार ने शनिवार को भारी मात्रा में पेट्रोल डीजल पर लगने वाले केंद्रीय उत्पाद शुल्क में कटौती की। केंद्र सरकार के इस कमद का भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित भाजपा शासित मुख्यमंत्रियों और भाजपा के राष्ट्रीय जनतान्त्रिक गठबन्धन (राजग) से जुड़ी पार्टियों के मुख्यमंत्रियों ने स्वागत किया। वहीं, छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार ने भी केंद्र के इस फैसले का स्वागत किया। मांग की है कि केंद्र सरकार  पेट्रोल डीजल पर 4 फीसदी सेस को भी हटाए।

जनता को मिलेगी राहत

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने रविवार को मीडिया से बात कर कहा कि भाजपा सरकार साधारण व्यक्ति को राहत देने, उनके जीवन में बदलाव लाने और गरीबों के सशक्तिकरण के लिए कटिबद्ध रूप से काम कर रही है। इसका एक उदाहरण हमने कल देखा जब प्रधानमंत्री ने 6 महीने में दूसरी बार पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी में भारी कमी की है। हालांकि इस छूट से सरकार के सालाना आधार पर एक लाख करोड़ रुपए का भार पड़ेगा लेकिन देश की जनता को इसका लाभ मिलेगा।

छह महीने में दो बार एक्साइज ड्यूटी कम करने का फैसला अभिनंदनीय 

समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पीएम द्वारा पेट्रोल-डीजल की एक्साइज ड्यूटी कम करने का लाभ सभी देशवासियों को मिलेगा। जब दुनिया रूस-यूक्रेन युद्ध के कारण महंगाई बढ़ोतरी की ओर है उस समय महंगाई पर रोक लगाने के लिए 6 महीने में दो बार एक्साइज ड्यूटी में कमी करने का निर्णय अभिनंदनीय है।

मणिपुर के मुख्यमंत्री एन. बीरेन सिंह ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री का स्वागत करना चाहता हूं कि उन्होंने देश की आम जनता के बारे में सोचकर इतना बड़ा फैसला लिया होगा।

जल्दी इस पर हम भी करेंगे विचार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रेस से बात कर कहा केंद्र सरकार ने पेट्रोल-डीजल के दाम में कमी की है, ये खुशी की बात है। हम भी इसपर (राज्य में पेट्रोल-डीजल की कीमतें कम करने) बात करेंगे। पिछली बार तो हमने दाम कम किया ही था।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर दिल्ली में मीडिया से बात करते हुए कहा कि पीएम मोदी ने पेट्रोलियम पदार्थों की बढ़ती कीमत में कटौती करने का फैसला लिया है। डीजल में 7 रुपए प्रति लीटर, पेट्रोल में 9.5 रुपए प्रति लीटर और उज्ज्वला योजना में घरेलू सिलेंडर में 200 रुपए प्रति सिलेंडर कमी की है, इसके लिए उनका आभार प्रकट करता हूं।

लागू हो यूपीए वाली एक्साइज ड्यूटी

छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार के मुख्यमंत्री बूपेश बघेल ने कहा कि हमें इस फैसले से सेंट्रल एक्साइज का नुकसान 570 करोड़ रुपये का हो रहा है, परन्तु प्रदेश की जनता के हित में हम इस फैसले का स्वागत करते हैं। हम चाहते हैं कि UPA सरकार में जितना सेंट्रल एक्साइज था उसी दर पर ले आईए। बघेल ने केंद्र सरकार  मांग की कि सरकार पेट्रोल डीजल से 4 फीसदी सेस को भी हटाना चाहिए।

जनता को राहत के लिए गैर भाजपा सरकारें भी कम करें रेट

गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सांवत ने दिल्ली में मीडिया से बात कर कहा कि केंद्र सरकार के इस फैसले का मैं स्वागत करता हूं। इससे आम जनता को राहत मिलेगी। पहले भी जिन राज्यों में भाजपा की सरकार है वहां पेट्रोल-डीज़ल का दाम कम किया गया था। गैर-भाजपा शासित राज्यों को भी दाम कम करके जनता को राहत देनी चाहिए।

इतने रुपए हुआ वाहन ईंधन कम

आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने शानिवार शाम को पेट्रोल व डीजल पर क्रमश:8 और 6 रुपए एक्साइज ड्यूटी (Excise Duty) में कमी की थी। इसके बाद से देश भर में पेट्रोल 9.5 रुपए प्रति लीटर  और डीजल 7 रुपए प्रति लीटर की कमी आई है। उत्पाद शुल्क में कटौती के बाद आज देश के अधिकांश शहरों में पेट्रोल के भाव 100 के नीचे चले गए हैं,जो कल तक 100 के पार थे।

इसको भी बढ़ें:

सरकार ने दी जनता को राहत, पेट्रोल में 8 व डीजल में 6 रुपये कम किए उत्पाद शुल्क, उज्ज्वला योजना में 200रु की राहत

ये पढ़ें:  …महंगाई डायन खाए जात है! CNG की कीमतों फिर हुआ इजाफा, 1KG पर चुकानें होंगे इतने रुपये

Connect With Us: Twitter | Facebook Youtube
SHARE
Koo bird

MOST POPULAR