Monday, May 23, 2022
Monday, May 23, 2022
HomeTop NewsComplaints Against Airtel Service एयरटेल की सर्विस के खिलाफ देश में सबसे...

Complaints Against Airtel Service एयरटेल की सर्विस के खिलाफ देश में सबसे ज्यादा शिकायतें

Complaints Against Airtel Service

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली:
देश में टेलीकॉम कंपनी एयरटेल की सर्विस के खिलाफ सबसे ज्यादा शिकायतें आई है। इसके बाद दूसरे नंबर पर वोडाफोन आइडिया ऐसी कंपनी है जिसके खिलाफ शिकायतें मिली है और रिलायंस जियो तीसरे स्थान पर है। यह जानकारी शुक्रवार को संसद में सांझा की गई।

संचार राज्य मंत्री देवुसिंह चौहान द्वारा दिए गए आंकड़ों के अनुसार, भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) को 2021 में टेलीकाम सर्विस प्रोवाइडर भारती एयरटेल के खिलाफ 16,111 शिकायतें मिली हैं। इसके बाद वोडाफोन आइडिया के खिलाफ 14,487 शिकायतें दर्ज हुई हैं। इनमें से 9,186 शिकायतें वोडाफोन की सेवाओं के खिलाफ और 5,301 शिकायतें आइडिया के खिलाफ दर्ज हुई हैं। वहीं रिलायंस जियो के खिलाफ 7,341 शिकायतें मिली हैं।

आंकड़ों के मुताबिक ट्राई को एमटीएनएल के खिलाफ 732 और बीएसएनएल के खिलाफ 2,913 शिकायतें मिली हैं। देवुसिंह चौहान ने बताया कि ट्राई एक्ट में व्यक्तिगत तौर पर कंज्यूमर की ओर से की गई शिकायतों के समाधान का प्रावधान नहीं हैं। लेकिन ये शिकायतें संबंधित सर्विस प्रोवाइडर्स को भेज दी गई हैं।
उन्होंने कहा कि ट्राई ने सभी दूरसंचार सेवा प्रदाताओं के लिए उपभोक्ता शिकायतों से निपटने के लिए दो स्तरीय शिकायत निवारण तंत्र स्थापित करना अनिवार्य कर दिया है।

कैसे दर्ज होती हैं शिकायतें

ग्राहक शिकायत निवारण मैकेनिज्म के तहत टेलीकॉम सेवाएं देने वाली कंपनियों के शिकायत केंद्र में अपनी शिकायत दर्ज करा सकता है। अगर ग्राहक की शिकायतें वहां दूर नहीं होती हैं तो टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर्स के अपीलीय प्राधिकरण में अपील की जा सकती है। दरअसल, भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण ट्राई ने टेलीकॉम सर्विस मुहैया कराने वाली कंपनियों को टू टियर शिकायत निवारण मैकेनिज्म बनाने का निर्देश दिया था ताकि ग्राहकों की शिकायतों का निपटारा हो सके।

देश के प्राइवेट सेक्टर में 3 हैं टेलीकॉम सर्विसेज

बता दें कि देश के प्राइवेट सेक्टर में अब टेलीकॉम सर्विसेज मुहैया कराने वाली 3 ही कंपनियां एयरटेल, वोडाफोन आइडिया और रिलायंस जियो हैं और तीनों ने हाल ही में अपनी टैरिफ और डेटा रेट में इजाफा किया है। उक्त तीनों कंपनियों के पास करोड़ों में ग्राहक हैं। हालांकि कंपनियां अपनी सेवाओं को लगातार बेहतर करने की कोशिश में लगी हैं लेकिन भारत में ग्राहक इंटरनेट की धीमी स्पीड से जूझ रहे हैं।

Also Read : FD Interest Rates अगर इन बैंकों में करा रहे एफडी तो ब्याज दरों का रखें ध्यान

Connect With Us: Twitter | Facebook Youtube

SHARE

MOST POPULAR