Wednesday, February 8, 2023
Wednesday, February 8, 2023
HomeCommoditiesRussia Ukraine Dispute दुनियाभर के शेयर बाजारों में हाहाकार, क्रूड आयल 96...

Russia Ukraine Dispute दुनियाभर के शेयर बाजारों में हाहाकार, क्रूड आयल 96 डॉलर प्रति बैरल के पार

- Advertisement -

Russia Ukraine Dispute

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली:
रूस और यूक्रेन के बीच विवाद का असर पूरी दुनिया पर दिखना शुरू हो गया है। पहले से कयास लगाए जा रहे थे कि अगर युद्ध हुआ तो इससे विश्व में सभी देशों की अर्थव्यवस्था पर बुरा असर पड़ेगा। महंगाई पहले से ही अपने चरम पर है। वहीं अब रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने पूर्वी यूक्रेन में रूस समर्थित अलगाववादी क्षेत्रों डोनेत्स्क और लुहांस्क की स्वतंत्रता को मान्यता दे दी है।

इसके बाद दुनियाभर के शेयर बाजारों में हाहाकार मच गया। सिर्फ भारत ही नहीं, एशिया से लेकर यूरोप के बाजारों भारी गिरावट देखने को मिली। सोमवार को प्रेसिडेंट डे के मौके पर अमेरिकी बाजार बंद थे, लेकिन डाओ फ्यूचर में कारोबार हुआ और भारी गिरावट आई। डाओ फ्चूयर 500 अंकों तक टूट गया।

जर्मनी का DAX 3.7 फीसदी तक गिर गया। रूस-यूक्रेन विवाद का असर कच्चे तेल पर दिखा और ब्रेंट क्रूड का भाव लगभग 97 डॉलर प्रति बैरल हो गया है। अमेरिका, ब्रिटेन और यूरोपीय देशों द्वारा रूस पर पाबंदियों के चलते कच्चे तेल की सप्लाई को लेकर भी चिंता बनी हुई है।

सोमवार को सभी बाजारों में हुई गिरावट

सोमवार को एटीएसई 0.39 फीसदी, सीएसी 2.04 फीसदी और डैक्स 2.07 फीसदी टूटकर बंद हुआ। एसजीएक्स निफ्टी में 1 फीसदी ज्यादा और हैंगसेंग में 780 अंक या 3.23 फीसदी की गिरावट नजर आ रही है। शंघाई एसई कम्पोजिट इंडेक्स 1.19 फीसदी जबकि ताइवान टी सेक्ट 50 इंडेक्स 1.87 फीसदी टूट है। निक्केई 225 2.29 फीसदी, स्टेट्स टाइम्स 0.82 फीसदी, कोस्पी 1.75 फीसदी की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है।

आज Crude Oil में आया 1.35 फीसदी का उछाल

Russia Ukraine Dispute
Russia Ukraine Dispute

आज मंगलवार को कच्चे तेल (Crude Oil) में 1.35 फीसदी का उछाल आया है। ब्रेंट क्रूड 1.36 फीसदी की उछाल के साथ 96.69 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा है जबकि डब्ल्यूटीआई क्रूड 3.22 फीसदी चढ़कर 94 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया है। इस साल अबतक क्रूड आयल 21 फीसदी और 1 साल में 62 फीसदी तक महंगा हो चुका है।

यूक्रेन के इन 2 क्षेत्रों में पीस कीपिंग फोर्स तैनात करेगा रूस

बता दें कि रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने जिन दो देशों को मान्यता देने की बात कही है, अभी ये दोनों क्षेत्र डोनेत्स्क और लुगंस्क रूस समर्थक विद्रोहियों के कब्जे में है। पुतिन ने इन दोनों क्षेत्रों में पीस कीपिंग फोर्स के रूप में तैनात करने की बात कही है। इसके बाद से ऐसा माना जा रहा है कि अब यह विवाद चरम पर पहुंच रहा है।

वहीं अमेरिका और ब्रिटेन ने रूस पर प्रतिबंध की बात कही है। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने इस क्षेत्र में व्यापार और निवेश पर प्रतिबंध लगाने के लिए कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर किए हैं।

Also Read : Share Market Update : सेंसेक्स 1000 अंक टूटा, 1 मिनट में 5 लाख करोड़ का नुक्सान

Also Read : Gold Price : सोने की कीमतों में तेजी, 52000 तक जाने की संभावना

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

MOST POPULAR