Monday, September 26, 2022
Monday, September 26, 2022
HomeShare marketBSE लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप आया जबरदस्त उछाल, पहुंचा इस सप्ताह...

BSE लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप आया जबरदस्त उछाल, पहुंचा इस सप्ताह ऑल टाइम हाई, जानिए पीछे की वजह?

Listed Companie Market Cap at All-Time High

इंडिया न्यूज,नई दिल्ली। इस सप्ताह भारतीय शेयर बाजार का कारोबार में ठीक ठाक प्रदर्शन देखने को मिला है। कारोबारी सप्ताह समाप्त हो चुका है। कल शुक्रवार को घरेलू शेयर बाजार का आखिरी कारोबारी सप्ताह का सत्र था  और इस सत्र में शेयर बाजार उछाल पर बंद हुआ है। बाजार में आई इस उछाल का प्रभाव BSE लिस्टेड कंपनियों बाजार पूंजीकरण पर दिखाई दिया है। इस सप्ताह BSE लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप ऑल टाइम हाई 283 लाख करोड़ रुपए के स्तर पर आ गया है,जोकि अपने आपमें एक नया रिकॉर्ड है। यह जानकारी बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज की वेबसाइट से शनिवार को प्राप्त हुई है। वहीं, बाजार विशेषज्ञों ने घूरेलू बाजार में किन वजहों से तेजी आई है। इसके पीछे की वजह बताईं है।

आखिरी दो दिन में 2.16 लाख करोड़ रुपये आए

बीएसई के मुताबिक, इस सप्ताह शेयर बाजार बनी रही तेजी ने निवेशकों को मालामाल किया है। BSE लिस्टेड कंपनियों का बाजार पूंजीकरण यानी मार्केट कैप इस सप्ताह ऑल टाइम हाई 283 लाख करोड़ रुपए के स्तर पर पहुंच गया। बीएसई पर लिस्डेट कंपनियों का कुल बाजार पूंजीकरण 283.03 लाख करोड़ रुपए हो गया है। आखिरी दो दिन की तेजी ने कंपनियों की संपत्ति में 2.16 लाख करोड़ रुपये जोड़ा है। साप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स में 989 अंक या 1.68 फीसदी तथा निफ्टी में 294 अंक या 1.67 फीसदी की तेजी रही है।

लॉन्ग टर्म ग्रोथ पर बनी हुई स्थिरता

बाजार की तेजी पर कोटक सिक्यॉरिटीज के टेक्निकल रिसर्च वाइस प्रेसिडेंट अमोल अठावले ने कहा कि शुक्रवार को कारोबार के दौरान सेंसेक्स ने 60 हजार का मनोवैज्ञानिक स्तर पार किया, लेकिन यह उससे नीचे बंद हुआ है। मौजूदा समय घरेलू  शेयर बाजार हल्का अपर प्राइस पर दिख रहा है, लेकिन लॉन्ग टर्म ग्रोथ की संभावनाओं के बीच बाजार में स्थिरता है।  विश्व के अन्य देशों की अर्थव्यवस्था के मुकाबले भारत की अर्थव्यस्था अच्छा प्रदर्शन की रही है।

मुनाफावसूली ने बाजार की बढ़त को किया सीमित

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर का कहना है कि वैश्विक बाजारों में अच्छे संकेतों के साथ भारतीय शेयर बाजार की शुरूआत अच्छी रही है। हालांकि 60,000 अंक के मनोवैज्ञानिक आंकड़ों को छूने के बाद मुनाफावसूली ने शेयर बाजार की बढ़त को सीमित कर दिया।

इसको भी पढ़ें:

इसे पढ़ें: राकेश झुनझुनवाला के निधन पर पीएम मोदी समेत देश की प्रमुख हस्तियों ने किया याद, आज शाम पांच बजे मालाबार हिल होगा अंतिम संस्कार
Connect With Us: Twitter | Facebook |Instagram Youtube

SHARE
Koo bird

MOST POPULAR