Friday, December 9, 2022
Friday, December 9, 2022
HomeRBI Newsप्राइवेट सेक्‍टर में देश के तीसरे बड़े बैंक ने अपने नियम में...

प्राइवेट सेक्‍टर में देश के तीसरे बड़े बैंक ने अपने नियम में बदलाव करके अपने करोड़ों ग्राहकों को दिया झटका

- Advertisement -

(नई दिल्ली): प्राइवेट सेक्‍टर में देश के तीसरे सबसे बड़े बैंक ने करोड़ों ग्राहकों को झटका दे दिया है. देश के तीसरे सबसे बड़े बैंक की गिनती में गिने जाने वाले एक्सिस बैंक की तरफ से सीमांत लागत आधारित ब्याज दर यानि MCLR में 0.25 प्रतिशत का इजाफा किया गया है। बढ़ी हुई ब्याज दर तत्काल प्रभाव से लागू कर दी गई हैं।

प्राइवेट सेक्‍टर में देश के तीसरे सबसे बड़े बैंक ने वेबसाइट पर यह सूचना जारी कर बताया है कि बीते 18 अक्टूबर, 2022 से एक साल की अवधि की मानक एमसीएलआर को 0.25 प्रतिशत बढ़ाकर 8.35 प्रतिशत कर दिया गया है. यह पहले 8.10 प्रतिशत थी।

एक्सिस बैंक ने एमसीएलआर रेट में की वृद्धि

एक साल की एमसीएलआर के आधार पर ही वाहन, व्यक्तिगत और आवास ऋण की दरें तय की जाती हैं। भारतीय रिजर्व बैंक या RBI के 30 सितंबर को रेपो रेट में 0.50 प्रतिशत की बढ़ोतरी के बाद एक्सिस बैंक ने एमसीएलआर रेट में वृद्धि की है। एक दिन से लेकर छह माह की अवधि तक के लोन पर भी एमसीएलआर को 0.25 प्रतिशत बढ़ाकर 8.15-8.30 प्रतिशत कर दिया गया है।

ये दरें अगली समीक्षा तक मान्य

दो साल की अवधि के लिए एमसीएलआर 8.45 प्रतिशत और तीन साल के लिए 8.50 प्रतिशत होगी। एक्सिस बैंक ने कहा है कि ये दरें अगली समीक्षा तक मान्य होंगी।

अपको बता दे कि इससे पहले भारतीय स्टेट बैंक यानि SBI, फेडरल बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक ने एमसीएलआर दर में इजाफा किया था। इसके अलावा एसबीआई ने मंगलवार यानि 17 अक्टूबर को बड़ी राशि जमा करने वालों के लिये ब्याज दर 0.3 प्रतिशत बढ़ा दी है।

जितनी ज्यादा जमा राशि उतना ज्यादा ब्याज

एसबीआई ने 17 अक्टूबर यानि सोमवार को 10 करोड़ रुपये से कम जमा वाले सेविंग अकाउंट पर ब्याज को 0.50 प्रतिशत से घटाकर 2.70 प्रतिशत तक कर दिया था। एसबीआई की तरफ से एक बयान जारी हुआ। जिसमें कहा गया कि 10 करोड़ रुपये या उससे ज्यादा की जमाओं पर अब ग्राहकों को 3 प्रतिशत की दर से ब्याज मिलेगा।

SHARE
Koo bird

MOST POPULAR