Sunday, August 7, 2022
Sunday, August 7, 2022
HomeRBI Newsरिजर्व बैंक ने लगाया तीन सहकारी बैंकों पर प्रतिबंध, पैसे निकालने की...

रिजर्व बैंक ने लगाया तीन सहकारी बैंकों पर प्रतिबंध, पैसे निकालने की सीमा की निर्धारित, जानिए क्यों लगा प्रतिबंध?

RBI Ban on Three Cooperative Banks

इंडिया न्यूज,नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया यानी आरबीआई देश जिन बैंकों की वित्तीय हालत बिगड़ रही है, उन पर तुरंत एक्शन ले रहा है। बीते कोई दिनों में आरबीआई ने कई बैंकों पर वित्तीय हालत बिगड़ने के चलते कार्रवाई कर चुका है। इस कड़ी में रिजर्व बैंक ने तीन और सहकारी बैंकों पर कड़ी कार्रवाई करते हुए प्रतिबंध लगा दिये हैं। रिजर्व बैंक ने तीन सहकारी बैंकों पर रुपए की निकासी सीमा पर प्रतिबंध लगा दिया है।

मात्र 10 हजार रुपये की कर सकेंगे निकासी

रिजर्व बैंक के मुताबिक, तीन सहकारी बैंकों की बिगड़ती वित्तीय स्थिति को देखते को देखते हुए जयप्रकाश नारायण नगरी सहकारी बैंक, बासमतनगर और द करमाला अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक, सोलापुर पर पैसे निकासी सीमा पर प्रतिबंध लगा दिया है। अब इन बैंकों के खाताधारक 10,000 रुपये से ज्यादा की निकासी नहीं कर सकेंगे। इसके अलावा केंद्रीय बैंक ने ने दुर्गा को-ऑपरेटिव अर्बन बैंक, विजयवाड़ा पर भी प्रतिबंध लगाया है। इन सभी बैंकों पर यह प्रतिबंध 6 महीने तक लागू होगा।

कई और चीजों पर भी लगा प्रतिबंध

आरबीआई को ओर से दुर्गा को-ऑपरेटिव अर्बन बैंक, विजयवाड़ा पर लगे प्रतबिंध के बाद अब इस बैंक के ग्राहक अपनी जमा राशि से 1.5 लाख रुपये तक निकाल सकेंगे। जाम निकासी प्रतिबंध के अलावा यह बैंक बिना केंद्रीय बैंक के आदेश के किसी भी प्रकार का कोई लोन नहीं देने, कोई निवेश न करने और नई जमा स्वीकार नहीं करने का प्रतिबंध लगाया है। इस प्रतिबंध के चलते इन बैकों को अधिकांश कामों के लिए रिजर्व बैंक की अनुमित लेने पड़गी।

इन बैंकों पर भी लग चुका प्रतिबंध

वित्तीय हालत बिगड़ते के चलते आरबीआई ने यह कदम पहली बार नहीं उठाया है। इससे पहले भी कई सहकारी बैंकों पर इस प्रकार का प्रतिबंध लगा चुकी है। बीते दिनों में केंद्रीय बैंक ने साईबाबा जनता सहकारी बैंक, द सूरी फ्रेंड्स यूनियन को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड, सूरी (पश्चिम बंगाल) और बहराइच के नेशनल अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड पर छह महीने का प्रतिबंध लगा चुकी है। उसके पहले कर्नाटक के श्री मल्लिकार्जुन पटाना कोऑपरेटिव बैंक लिमिटेड और महाराष्ट्र के नासिक जिला स्थित गिरना कोऑपरेटिव बैंक पर भी वित्तीय हालत बिगड़ने के चलते प्रतिबंध लग चुका है,जबकि इस दौरान रिजर्व बैंक ने सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक पर ‘धोखाधड़ी’ के चलते 57.75 लाख का जुर्माना लगाया था।

इसको भी पढ़ें:

देश के कोर इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में सकारात्मक माहौल, जून 22 में बढ़ा 12% की अधिक गाति से

इसे पढ़ें: बीएसई के प्रमुख पद से आशीष कुमार चौहान कार्यमुक्त, अब एनएसई की संभालेंगे कमान

Connect With Us: Twitter | Facebook |Instagram Youtube

SHARE
Koo bird

MOST POPULAR