Tuesday, August 9, 2022
Tuesday, August 9, 2022
HomeInsuranceCorona Kavach Policy, Omicron ने बढ़ाया खतरा, Health Insurance में कोरोना कवच...

Corona Kavach Policy, Omicron ने बढ़ाया खतरा, Health Insurance में कोरोना कवच पालिसी सबसे शानदार, जानिए क्या क्या होगा कवर

Corona Kavach Policy

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली:
कोरोना वायरस के नये वैरिएंट Omicron ने एक बार फिर से कोरोना का खतरा बढ़ा दिया है। नये वैरिएंट ओमिक्रॉन के कारण भारत में तीसरी लहर की संभावना भी बन गई है। लोगों के माथे पर चिंता बढ़ गई है। ऐसे में एक बार फिर लोगों को हेल्थ इंश्योरेंस का महत्व समझ में आ रहा है।

यदि आप भी Health Insurance लेने का प्लान बना रहे हैं तो हम आपको बता रहे हैं एक ऐसी हेल्थ पॉलिसी के बारे में, जो कोविड-19 के इलाज के लिए आपको काफी मदद करेगी। इस पालिसी का नाम है कोरोना कवच। इसमें कोरोना होने पर 5 लाख रुपए तक का मुफ्त इलाज मिलेगा। हम आपको इस पॉलिसी के बारे में बता रहे हैं।

कोरोना कवच पॉलिसी क्या है

कोरोना कवच एक स्टैंडर्ड कोविड-19 की पॉलिसी है। इसमें कोरोना वायरस के संक्रमण का उपचार किया जाता है। यह एक शॉर्ट टर्म पॉलिसी है। इसमें सम इंश्योर्ड 50 हजार रुपये से लेकर 5 लाख रुपये तक ही होता है।

अच्छी बात यह है कि यह पॉलिसी शॉर्ट टर्म के लिए यानी 3.5 महीने से 9.5 महीने तक के लिए ली जा सकती है। इसमें कवर का प्रीमियम 500 से 6 हजार रुपए (ॠरळ शामिल नहीं) रहेगा। इसके लिए प्रीमियम भी एक बार ही दिया जाता है। मतलब कि एक बार ही प्रीमियम भरना होगा और आपकी छुट्टी। ये पॉलिसी 18 से 65 साल तक का कोई भी व्यक्ति ले सकता है।

बेड से लेकन नर्सिंग, आक्सीजन और डॉक्टर की कंसल्टेशन फीस होती है कवर

कोरोना कवच पॉलिसी में अस्पताल में भर्ती होने से पहले डोक्टर कंसल्टेशन, चेक अप और डाइग्नोसिस के खर्च शामिल होते हैं। ऐसे खर्चों पर अस्पताल में भर्ती होने से 15 दिन पहले तक का कवर मिलता है। इसके अलावा बेड का चार्ज, नर्सिंग चार्ज, ब्लड टेस्ट, PPE किट, आक्सीजन, ICU और डॉक्टर की कंसल्टेशन फीस कवर होती है।

इसमें अस्पताल से डिस्चार्ज होने के 30 दिन बाद तक का मेडिकल खर्च मिलता है। अगर आपका कोरोना बीमारी का इलाज घर पर चल रहा है तो इसमें हेल्थ की मॉनिटरिंग और दवाइयों का खर्च 14 दिन तक के लिए कवर होता है।

आयुर्वेदिक इलाज भी होगा कवर

कोरोना कवच पॉलिसी के तहत आपको आयुर्वेद और उससे जुड़े खर्च पर भी कवर मिलेगा। घर से अस्पताल और अस्पताल से घर तक एम्बुलेंस में ट्रांसफर करने का खर्च भी कवर किया जाता है।

Read More : Health Insurance Policy: सीनियर सिटीजन के लिए ले रहे है हेल्थ पॉलिसी तो इन चुनिंदा बातों का ध्यान रखना है ज़रूरी

Connect With Us: Twitter | Facebook |Instagram Youtube

SHARE
Koo bird

MOST POPULAR