Sunday, August 7, 2022
Sunday, August 7, 2022
HomeIndia NewsWE WOMEN WANT: इस एपिसोड में जानिए कितनी मददगार है आईवीएफ

WE WOMEN WANT: इस एपिसोड में जानिए कितनी मददगार है आईवीएफ

We Women Want

Hightlights

  • मिलेगा आईवीएफ के बारे में आपके सभी सवालों का जवाब
  • जानेमाने डॉक्टरों के पैनल द्वारा केस स्टडी में हुआ ये खुलासा
  • पेरेंट ने बताया कैसे उन्‍हें आईवीएफ से मिली खुशी

इंडिया न्यूज़, We Women Want: आईवीएफ इन दिनों चर्चा में है। वी वीमेन वांट के 5वें एपिसोड में इसी विषय को प्रमुखता से उठाया गया है। वी वीमेन वांट न्यूज़एक्स का फ्लैगशिप शो है। इसमें महिलाओं के मुद्दों पर फोकस किया जाता है। प्रसारित होने वाले शो में आईवीएफ पर चर्चा की जाएगी। आईवीएफ के बारे में आपके सभी सवालों का जवाब दिया जाएगा। यह प्रक्रिया क्या है और इसकी सफलता दर कितनी है। जानेमाने डॉक्टरों के पैनल द्वारा केस स्टडी के माध्‍यम से तमाम सवालों का जवाब दिया जाएगा।

समझिए क्या है आईवीएफ

कार्यक्रम के दौरान डॉक्टर पूरी प्रक्रिया को शुरू से अंत तक समझाते हैं। इस मिथक को तोड़ते हैं कि प्रक्रिया जटिल और दर्दनाक है। कैंसर से बचे लोगों के लिए भी आशा है जिन्हें गर्भधारण करने में कठिनाई हो सकती है।

डॉ गौरी ने ऐसे शुरू किया सफर

पैनल के डॉक्टरों में से एक हैं डॉ गौरी अग्रवाल, संस्थापक (बीज ऑफ इनोसेंस)। वे एक स्टैंड अलोन सेंटर से संबंधित हैं। उन्होंने अकेले ही अपने ड्रीम प्रोजेक्ट को 15 ऐसी इकाइयों में विस्तारित किया है। जिससे वह अधिक से अधिक लोगों के जीवन में मूल्य जोड़ रही हैं।

डॉ तान्‍या ने आईवीएफ को ऐसे समझाया

दूसरी डॉक्टर हैं डॉ तान्या बख्शी रोहतगी जो कैंसर रोगियों में प्रजनन क्षमता और आनुवंशिक परीक्षण पीजीटीए के बारे में बताएंगी। उन्‍होंने मैक्स में एंडोमेट्रियल कायाकल्प के लिए मैक्स पीआरपी-प्लेटलेट्स रिच प्लाज्मा थेरेपी शुरू की। जिसमें से पहले बच्चे का जन्म हुआ। तीसरी पैनलिस्ट डॉ सुवीन घुम्मन सिंधु हैं जो मैक्स में सीनियर डायरेक्टर और एचओडी इनफर्टिलिटी और आईवीएफ हैं और इंडियन फर्टिलिटी सोसाइटी की महासचिव भी हैं।

पेरेंट ने बताया कैसे उन्‍हें आईवीएफ से मिली खुशी

शो का संचालन न्यूजएक्स की वरिष्ठ कार्यकारी संपादक प्रिया सहगल कर रही हैं। इस शो में एक युवा जोड़े की उपस्थिति थी, जो आईवीएफ प्रक्रिया से गुजरे थे। अब वे एक बच्ची के गर्वित माता-पिता हैं। दोनों पेरेंट ने आईवीएफ के बारे में विस्तार से बताया कि लोगों के मन में इसको लेकर काफी भ्रम है। जो सही नहीं है।

उन्‍होंने बताया कि कैसे उन्‍होंने माता-पिता बनने के लिए लंबा सफर किया। कैसे उन्‍हें यह खुशी मिली और वे आज क्‍या सोचते हैं। जो आईवीएफ से गुजरना चाहते हैं लेकिन दर्द या कलंक के बारे में झिझकते हैं कि उन्हें गर्भ धारण करने में मदद की ज़रूरत है। यह ऐसे पूर्वाग्रहों को मिटाना है जो वी वीमेन वांट के मिशन स्टेटमेंट में से एक है।

न्‍यूजएक्‍स पर देखिए ‘वी वीमेन वांट’

न्यूज़एक्स पर हर शनिवार शाम 7:30 बजे ‘वी वीमेन वांट’ के ताज़ा एपिसोड देखें। कार्यक्रम को प्रमुख ओटीटी प्लेटफॉर्म- डेलीहंट, ज़ी5, एमएक्स प्लेयर, शेमारू मी, वाचो, मज़ालो, जियो टीवी, टाटा प्ले और पेटीएम लाइवस्ट्रीम पर भी लाइव स्ट्रीम किया जाएगा।

संबंधित खबरें:

SHARE
Koo bird

MOST POPULAR