Monday, August 15, 2022
Monday, August 15, 2022
HomeBusinessमहंगाई रोकने के लिए फेडरल रिजर्व ने फिर बढ़ाईं ब्याज दरें, मंदी...

महंगाई रोकने के लिए फेडरल रिजर्व ने फिर बढ़ाईं ब्याज दरें, मंदी की आशंका का इंकार

US Federal Rate Hike

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली। अमेरिका बढ़ी महंगाई को रोकने के लिए अमेरिकी केंद्रीय बैंक यूएस फेडरल रिजर्व (US Fed) ने एक बार फिर ब्याज दर में इजाफा कर दिया है। इस बार फेड ने 0.75 फीसदी की दर से ब्याज दरों में बढ़ोतरी की है। इस बढ़ोतरी के बाद से अब अमेरिका में ब्याज दर बढ़कर 2.50 फीसदी पर पहुंच गई हैं। इससे पहले भी अमेरिका का केंद्रीय बैंक महंगाई को लेकर ब्याज दरों में इजाफा कर चुका है। तब जून 2022 को फेडरल रिजर्व ने ब्याज दरों में 75 बेसिस प्वाइंट का इजाफा किया था।

फेडरल रिजर्व ने इंकार किया मंदी आने की आशंका

दरअसल, कोरोना वैश्विक महामारी से खस्ता हालत हो चुकी आर्थिक व्यवस्था पटरी पर लौटी ही ही थी कि रूस और यूक्रेन के युद्ध ने अर्थव्यवस्था को पीछे ढ़ाकले दिया। युद्ध के चलते चैन सप्लाई रोकने से दुनिया के अधिकांश देशों में थोक व खुदरा वस्तुओं के दाम आसमान को छूने लगे, जिसके चलते देशों में महंगाई चरम सीमा पर पहुंच गई है। सबसे बुरा हाल अमेरिका का रहा है। यहां पर महंगाई दर दर 1980 के बाद से सबसे अधिक है। इस महंगाई को देखते हुए बाजार विशेषज्ञ अमेरिका में मंदी की आने की संभावना भी बता रहे हैं, लेकिन फेडरल रिजर्व के चेयरमैन जेरोम पॉवेल ने इसे इंकार कर दिया है।

महंगाई कंट्रोल नहीं तो बढ़ेंगे आगे भी ब्याज दरें

अमेरिका के केंद्रीय बैंक ने यह भी साफ कर दिया है कि अगर इस ब्याज दर की बढ़ोतरी के बाद भी देश में महंगाई कंट्रोल में नहीं आई तो आगे भी ब्याज दरों में इजाफा किया जा सकता है। उधर, ब्याज दरों में बढ़ोतरी के बाद भी बुधवार को अमेरिका के शेयर बाजारों में उछाल देखी गई। न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज 1.5 फीसदी की तेजी आई है तो वहीं, डाऊ जोंस 440 अंक और नैस्डैक 4 फीसदी उछला है।

अब तक इतने बेसिस प्वाइंट का हो चुका इजाफा

आपको बता दें कि अमेरिका में बढ़ती महंगाई पर लगाम लगाने के लिए केंद्रीय बैंक यानी यूएस फेडरल रिजर्व मार्च महीने से लेकर अब तक 225 बेसिस प्‍वाइंट की ब्याज दरों में बढ़ोतरी कर चुका है। वहीं, इस साल के अंत तक देश में ब्याज दर 3.4 फीसदी तक रहने का अनुमान लगाया है तो वहीं, 2023 के अंत तक ब्याज दर बढ़कर 3.8 फीसदी रहने का अनुमान है।

इसको भी पढ़ें:

यूक्रेन को 800 मिलियन डालर की सैन्य मदद देगा अमेरिका, US Give 800 Million Dollar Military Aid To Ukraine

इसे पढ़ें: बीएसई के प्रमुख पद से आशीष कुमार चौहान कार्यमुक्त, अब एनएसई की संभालेंगे कमान

Connect With Us: Twitter | Facebook Youtube
SHARE
Koo bird

MOST POPULAR