Saturday, January 28, 2023
Saturday, January 28, 2023
HomeBusinessAir India Chairman: टाटा संस के चेरयमैन चंद्रशेखरन के हाथों में ही...

Air India Chairman: टाटा संस के चेरयमैन चंद्रशेखरन के हाथों में ही आई एयर इंडिया की जिम्मेदारी, योग्य सीईओ की तलाश जारी

- Advertisement -

इंडिया न्यून,नई दिल्ली। 

Air India Chairman: टाटा संस के चीफ एन चंद्रशेखरन को एयर इंडिया ने बड़ी जिम्मदारी सौंपी है। सोमवार को टाटा समूह की बोर्ड बैठक में एन चंद्रशेखरन को एयर इंडिया का नया चेयरमैन घोषित किया गया। Air India के बोर्ड की बैठक में चंद्रशेखरन की नियुक्ति के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई । इसके अलावा जनरल इंश्योरेंस कॉरपोरेशन के पूर्व सीएमडी Alice GeeVarghese Vaidyan और हिन्दुस्तान यूनिलीवर के चेयरमैन संजीव मेहता को बोर्ड में स्वतंत्र निदेशक के तौर पर शामिल किया जाएगा. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक बोर्ड ने उनकी नियुक्ति के लिए आवश्यक सुरक्षा मंजूरी दे दी है।

कौन है चंद्रशेखरन (Air India Chairman)

एन चंद्रशेखरन टाटा संस के चेयरमैन हैं। चंद्रशेखरन को बार फिरसे टाटा संस ने इसी साल फरवरी में अपना चेयरमैन नियुक्त किया है। उनकी यह नियुक्त पांच साल के लिए की गई है। वे टाटा के चेयरमैन बनाने से पहले टाटा ग्रुप की फ्लैगशिप कंपनी TCS के प्रमुख थे. एन चंद्रशेखरन अक्टूबर 2016 में Tata Sons के बोर्ड से जुड़े थे। टाटा ने उन्हें 2017 में कंपनी का चेयरमैन की जिम्मेदारी सौंपी थी।

Air India के सीईओ की तलाश जारी (Air India Chairman)

एयर इंडिया की जिम्मेदारी भले ही टाटा संस के  चेयरमैन चंद्रशेखरन हाथों में सौप दी है। लेकिन एयर इंडिया को अभी सीईओ पद के लिए उपयुक्त कैंडिडेट की तलाश अभी जारी है. इससे पहले तुर्की के नागरिक Ilker Ayci को कंपनी का सीईओ बनाया गया था, लेकिन बाद में उन्होंने पद स्वीकार करने से इनकार कर दिया था। नियुक्ति की शर्त के अनुसार आइची को एक अप्रैल, 2022 से कंपनी के सीईओ का पदभार ग्रहण करना था।

 टाटा का एयर इंडिया को लेकर है यह प्लान (Air India Chairman)

69 साल बाद जनवरी में एयर इंडिया फिर से टाटा ग्रुप में शामिल हुआ। हालांकि इसके टेकओवर के बाद से इसमें कई तरह के बदलाव हो रहे हैं। हाल ही में चंद्रशेखरन ने हाल में एयरलाइन के कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा था कि टाटा ग्रुप की योजना Air India के नेटवर्क के विस्तार, Fleet के आधुनिकीकरण, कस्टमर सर्विस को बेहतर बनाने और कंपनी को तकनीकी लिहाज दुनिया की सबसे एडवांस एयरलाइन बनाने की है।

Also Read : आज फिर पेटीएम के शेयर ने लगाया गोता, आल टाइम लो पर आया, जानिए क्या है विशेषज्ञों की राय

Also Read : FPI Withdrawals : विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने लगातार छठे महीने भारतीय शेयर बाजार में की बिकवाली

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

MOST POPULAR