Tuesday, December 6, 2022
Tuesday, December 6, 2022
HomeBusinessपीएनबी और ICICI बैंक ने बढ़ाईं कर्ज ब्याद दरें, जानिए कितने फीसदी...

पीएनबी और ICICI बैंक ने बढ़ाईं कर्ज ब्याद दरें, जानिए कितने फीसदी का हुआ इजाफा

- Advertisement -

Repo Rate Hike

इंडिया न्यूज,नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) द्वारा हाल ही में नीतिगत ब्याज दरों (रेपो रेट) में वृद्धि किये जाने के बाद से अब देश सार्वजनिक और निजी क्षेत्र की बैंक भी अपने कर्ज ब्याज दरों में इजाफा करने लगी हैं। आरबीआई के इस कदम के बाद सार्वजनिक क्षेत्र की पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) और निजी क्षेत्र की आईसीआईसीआई बैंक (ICICI) ने कर्ज ब्याज दरों में इजाफा कर दिया है। दोनों बैंकों के इस कदम से अब ग्राहकों को कर्ज लेना और महंगा हो गया है। वहीं, मौजूदा लोन पर चली रहीं ईएमआई पर भी वृद्धि हो सकती है। इससे पहले ही रेपो रेट की वृद्धि होने पर यह दोनों बैंक अपनी कर्ज ब्याज दरों में इजाफा कर चुकी हैं।

पहले हो चुका है MCLR में 0.15 फीसदी का इजाफा

इस संदर्भ में ICICI बैंक ने एक अधिसूचना जारी की है। इस अधिसूचना में बैंक ने कहा कि एक्सटर्नल बेंचमार्क लेंडिग रेट (I-EBLR) को बढ़ाकर 9.10 फीसदी कर दिया है, जोकि सालाना और प्रतिमाह देय है। बैंक की नई दरें कल यानी 5 अगस्त, 2022 से लागू हो गई हैं। इससे पहले भी ICICI बैंक केंद्रीय बैंक द्वारा रेपो रेट में वृद्धि किये जाने के बाद अपने मार्जिनल कॉस्ट पर आधारित लेंडिंग रेट (MCLR) को 0.15 फीसदी बढ़ा चुका है। यह वृद्धि सभी कर्ज पर थीं।

पीएनबी ने बढ़ाया इतने फीसदी कर्ज ब्याज दर

इसके अलावा सार्वजनिक क्षेत्र के पंजाब नेशनल बैंक (PNB) ने अपने रेपो रेट से जुड़े कर्ज दर (RLLR) को बढ़ाकर 7.90 फीसदी कर दिया है। इससे पहले यह 7.40 फीसदी था। पीएनबी की नई बढ़ी हुई नई दरें 8 अगस्त, 2022 से लागू होगी।

तीन साल के उच्च स्तर पर पहुंचा रेपो रेट

बात दें कि रिजर्व बैंक ने शुक्रवार को रेपो रेट में 0.50 फीसदी का इजाफा किया था। यह रिजर्व बैंक का तीन महीने के अंतराल में तीसरी बार रेपो रेट में इजाफा था। इस दौरान रिजर्व बैंक कुल 1.40 फीसदी रेपो रेट बढ़ा चुका है, जोकि तीन साल के उच्चतम स्तर 5.40 फीसदी पर है। इससे पहले जून 2022 में 0.50 फीसदी और मई 2022 में 0.40 फीसदी रेपो रेट में इजाफा हो चुका है। रिजर्व बैंक के गवर्नर शाशिकांत दास ने कल कहा था कि आरबीआई ने बड़ती महंगाई दर से निपटने के लिए रेपो रेट को बढ़ाया है। देश में पिछले 6 महीने से खुदरा महंगाई दर लगातार 6 फीसदी से अधिक स्तर पर बनी हुई है।

इसको भी पढ़ें: 

एसबीआई को पहली तिमाही में लगा चूना, स्टैंडएलोन आय भी घटा, सुधरे एसेट क्वालिटी

इसे पढ़ें: बीएसई के प्रमुख पद से आशीष कुमार चौहान कार्यमुक्त, अब एनएसई की संभालेंगे कमान

Connect With Us: Twitter | Facebook |Instagram Youtube

SHARE
Koo bird

MOST POPULAR