Tuesday, May 24, 2022
Tuesday, May 24, 2022
HomeBusinessनीति आयोग ने जारी किया बैटरी-स्वैपिंग पॉलिसी ड्राफ्ट नोटिफिकेशन, पहले चरण में...

नीति आयोग ने जारी किया बैटरी-स्वैपिंग पॉलिसी ड्राफ्ट नोटिफिकेशन, पहले चरण में इतने लाख आबादी वाले शहरों को मिली मान्यता

इंडिया न्यूज,नई दिल्ली। 

ई-व्हीकल की बैटरी खत्म होने पर उसे री-चार्ज करने में लगने वाले वक्त अब और कम हो जाएगा। नीति आयोग ने गुरुवार को बैटरी-स्वैपिंग पॉलिसी का ड्राफ्ट नोटिफिकेशन (battery swapping policy) जारी किया है। इस नई नीति का जारी करने का मसकद ई-वेहिकल्स की डिस्चार्ज बैटरी को बदलकर पूरी तरह चार्ज बैटरी लगाने की व्यवस्था को आसान के साथ प्रभावी बनाना है। इसके लागू होते ही पर इलेक्ट्रिक वाहनों के दाम घटने की उम्मीद भी की जा रही है, क्योंकि इन्हें बिना बैट्री के बेचा जा सकेगा।

पहले 40 लाख से अधिक आबादी वाले शहर को मिलेगी मान्यता

नीति आयोग के ड्राफ्ट के अनुसार, इसे पहले चरण में बैटरी स्वैपिंग नेटवर्क के विकास को लेकर 40 लाख से अधिक आबादी वाले सभी महानगरों को प्राथमिकता दी जाएगी। उसके बाद राज्यों की राजधानियों, केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्यालयों समेत पांच लाख से अधिक आबादी वाले शहरों को दूसरे चरण में शामिल किया जाएगा। इसमें बैटरी स्वैपिंग वाले वाहनों को बिना बैटरी के बेचा जाएगा. इससे इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) खरीदारों के लिये गाड़ी की लागत कम बैठेगी।

सीतारमण ने बजट-2022 में की थी घोषणा

केंद्र वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2022 के बजट में  ईवी इकोसिस्टम की क्षमता बेहतर करने के लिए बैट्री स्वैपिंग पॉलिसी और इंटरऑपरेबिलिटी स्टैंडर्ड्स लाने का ऐलान किया था। इस घोषणा के पीछे का उद्देश्य चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने को लेकर शहरी क्षेत्रों में जगह की कमी थी। उसके बाद नीति आयोग ने फरवरी 2022 में बैट्री स्वैपिंग की व्यापक नीति तैयार करने के लिए कई मंत्रालयों के साथ चर्चा की और मौसूदा तैयार करने के लिए आयोग ने बैट्री स्वैपिंग ऑपरेटर्स, बैट्री बनाने वाली कंपनियों, वाहन कंपनियों, वित्तीय संस्थानों और अन्य विशेषज्ञों से चर्चा किया। हालांकि सभी से 5 जून तक मसौदे पर सभी लोंगों को प्रतिक्रिया देने को कहा है।

इसको कहते हैं बैटरी स्वैपिंग पॉलिसी

वित्त मंत्रालय ने चार्ज बैटरी के बदले डिस्चार्ज बैटरी को अदलने और बदलने को लेकर यह  योजना ला रही है। इसके तहत बैटरियों को डी-लिकिंग चार्जिंग और बैटरी चार्ज करने की सुविधा प्रदान की जाएगी। अभी पॉलिसी सिर्फ टूव्हिलर और थ्री व्हिलर पर लागू होगी।

ये भी पढ़ें : हरे निशान पर हुआ कारोबार समाप्त, सेंसेक्स 874 अंक की बढ़त के साथ 57,911 पर बंद, महिंद्रा, एशियन पेंट, रिलायंस ने बनाई बढ़त

ये भी पढ़ें : इंफोसिस के बाद अब टाटा स्टील ने भी समेटा रूस से कारोबार, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह?

ये भी पढ़ें : देश ने नई तकनीक में फिनटेक स्पेस में लगाई लंबी छलांग: वैष्णव

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

SHARE

MOST POPULAR