Tuesday, November 29, 2022
Tuesday, November 29, 2022
HomeBusinessसंगीत से पहुंचा जा सकता है राष्ट्रभक्ती व कर्तव्य बोध के शिखर...

संगीत से पहुंचा जा सकता है राष्ट्रभक्ती व कर्तव्य बोध के शिखर पर: पीएम मोदी 

प्रधानमंत्री मोदी को मिला पहला लता दीनानाथ मंगेशकर अवॉर्ड। दीनानाथ मंगेशकर की 80वीं पुण्य तिथि पर दिया गया अवॉर्ड। 

- Advertisement -

इंडिया न्यूज, मुंबई। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi Awards) को रविवार को पहला लता दीनानाथ मंगेशकर अवॉर्ड से सम्मानित किया है। पीएम मोदी को यह सम्मान लता मंगेशकर के पिता मास्टर दीनानाथ मंगेशकर की 80वीं पुण्य तिथि पर दिया गया है। सम्मान पाने के बाद आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि संगीत एक साधना और भावना भी है। संगीत आपको राष्ट्रभक्ती और कर्तव्य बोध के शिखर तक पहुंचा सकता है। हम सब सौभाग्यशाली है कि हमने संगीत की इस शक्ति लता दीदी के रूप में साक्षात देखा है। हमें अपने आंखों से उनके दर्शन करने का सौभाग्य मिला है।

संगीत के लिए मंगेशकर परिवार ने जो योगदान दिया उसके लिए राष्ट्र रहेगा ऋणी

पीएम मोदी ने कह कि पुरस्कार जब लता दीदी जैसी बड़ी बहन के नाम से हो तो मेरे लिए उनके अपनत्व और प्यार का ही एक प्रतीक है। मैं इस पुरस्कार को सभी देशवासियों के लिए समर्पित करता हूं। जिस तरह लता दीदी जन-जन की थीं। उसी तरह से उनके नाम से मुझे दिया गया, जो पुरस्कार जन-जन का है। लता दीदी ने आज़ादी से पहले से भारत को आवाज़ दी। इन 75 वर्षों की देश की यात्रा उनके सुरों से जुड़ी रही। इस पुरस्कार से लता जी के पिता जी दीनानाथ मंगेशकर जी का नाम भी जुड़ा है। मंगेशकर परिवार का संगीत के लिए जो योगदान रहा है उसके लिए हम सभी देशवासी उनके ऋणी हैं।

राष्ट्रभक्ति की चेतना दीदी के थी भीतर

उन्होंने कहा कि संगीत के साथ-साथ राष्ट्रभक्ति की जो चेतना दीदी के भीतर थी, उसका स्रोत उनके पिताजी थे। आज़ादी की लड़ाई के दौरान शिमला में ब्रिटिश वायसराय के कार्यक्रम में दीनानाथ जी ने वीर सावरकर का लिखा गीत गया था और उसकी थीम पर प्रदर्शन किया था।

फरवरी में हुआ था लता मंगेशकर का निधन

बता दें कि दिवंगत भारतीय सिंगर लता मंगेशकर के नाम पर 24 अप्रैल 2022 को ‘लता दीनानाथ मंगेशकर अवॉर्ड’ की शुरुआत की गई है। लता मंगेशकर का फरवरी 2022 में मुंबई में 92 वर्ष की आयु में निधन हो गया था।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यह अवॉर्ड पाने वाले पहले भारतीय शख्स हैं।

राष्ट्र के लिए बहुमूल्य योगदान दाने वाले को दिया जाएगा हर पुरस्कार

अवॉर्ड को लेकर मंगेशकर परिवार ने कहा कि हर साल एक व्यक्ति को यह पुरस्कार दिया जायेगा। यह पुरस्कार उस व्यक्ति को दिया जाएगा जिसने हमारे राष्ट्र, लोगों और समाज के लिए कुछ बहुमूल्य योगदान देने में कामयाबी हासिल की होगी। इस साल से ‘लता दीनानाथ मंगेशकर अवॉर्ड’ की शुरुआत हुई है, जो आने वाले सालों में भी बरकार रहेगी.

इन लोगों को मिला पुस्कार
  • लता दीनानाथ मंगेशकर पुरस्कार- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
  • मास्टर दीनानाथ पुरस्कार- राहुल देशपांडे (भारतीय संगीत)
  • मास्टर दीनानाथ पुरस्कार (विशेष पुरस्कार)- आशा पारेख (सिनेमा के क्षेत्र में समर्पित सेवाएं)
  • मास्टर दीनानाथ पुरस्कार (विशेष पुरस्कार) – जैकी श्रॉफ ने सिनेमा के क्षेत्र में अपनी सेवाएं समर्पित की
  • मास्टर दीनानाथ पुरस्कार (आनंदमयी पुरस्कार) – मुंबई डब्बावाला

ये भी पढ़ें :  सेंसेक्स की टॉप 10 कंपनियों में से 8 का घटा मार्केट कैप, रियालंस ने हासिल किया पहला स्थान

ये भी पढ़ें : LIC IPO का बड़ा अपडेट: सरकार के फाइल किया अपडेटेड DRHP, 3.5 प्रतिशत ही बेचे जाएगी हिस्सेदारी, जानें प्रति शेयर की कीमत

Connect With Us: Twitter | Facebook Youtube

SHARE
Koo bird

MOST POPULAR