Thursday, May 26, 2022
Thursday, May 26, 2022
HomeBusinessTemple Foundation Day Program: अमृत महोत्सव पर पाटीदार हर जिले में 75...

Temple Foundation Day Program: अमृत महोत्सव पर पाटीदार हर जिले में 75 अमृत सरोवर बनाने का लें संकल्प: मोदी

  • मोदी ने रविवार को उमिया माता मंदिर के 14 वें स्थापना दिवस समारोह को किया संबोधित

इंडिया न्यूज,नई दिल्ली। 

Temple Foundation Day Program: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पानी होने के कारण ही पाटीदार पानीदार बनेंगे और अब आजादी के अमृत महोत्सव पर उन्हें हर जिले में 75 अमृत सरोवर बनाने का संकल्प लेना चाहिए। पीएम मोदी ने यह बातें रविवार को राम नवमी के अवसर पर गुजरात के गथिला स्थित जूनागढ़ में उमिया माता मंदिर के 14 वें स्थापना दिवस समारोह को संबोधित करते हुई कही। मोदी ने यह स्थापना दिवस कार्याक्रम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए दिल्ली से संबोधित किया।

अब मंदिर है सामाजिक चेतना और पर्यटन का केंद्र

पीएम मोदी ने कहा कि मैंने हमेशा सामूहिकता की शक्ति को महसूस किया है। उन्होंने कहा कि उमिया माता मंदिर का यह पावनधाम आस्था का केंद्र है, लेकिन अब यह स्थान सामाजिक चेतना और पर्यटन का केंद्र बन गया है। मंदिर के ट्रस्ट में शामिल सदस्यों को आभार प्रकट करते पीएम मोदी ने कहा कि मां उमिया के भक्तों को जो कुछ भी मांगा है, उसे आप लोगों ने पूरा करने की कोशिश की है। आप इसके लिए बधाई के पात्र हैं।

हर जिले में निर्माण किया जाए 75 अमृत सरोवर

उन्होंने  कहा कि मां उमिया के धाम में कई कार्यक्रम हो सकेंगे तभी यह स्थान सच्ची सामाजिक चेतना का केंद्र बनेगा। जब देश 2047 में स्वतंत्रता के 100 वर्ष मनाएगा, तो समाज और प्रत्येक नागरिक को यह निश्चय करना चाहिए कि देश कहां होगा। उन्होंने कहा कि मेरे मन में एक विचार आया है कि स्वतंत्रता के अमृत महोत्सव के अवसर पर प्रत्येक जिले में 75 अमृत सरोवर का निर्माण किया जाए, ताकि आने वाली पीढ़ी देखे कि हमारे गांव के लोगों ने इस झील का निर्माण किया है।

पीएम मोदी ने 2008 में किया था मंदिर का उद्धाटन

बता दें कि मंदिर का उद्घाटन भी पीएम मोदी ने 2008 में किया था, जब वे गुजरात के मुख्यमंत्री थे। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल  ने भी हिस्सा लिया।

पादीदारों की हैं कुलदेवी  (Temple Foundation Day Program)

पीएम मोदी के सुझाव पर मंदिर के ट्रस्ट ने विभिन्न सामाजिक और स्वास्थ्य संबंधि गतिविधियों में हिस्सा लेना शुरू किया। इसके साथ ही मंदिर द्वारा मुफ्त मोतियाबिंद ऑपरेशन और आर्थिक रूप से कमजोर रोगियों के लिए मुफ्त आयुर्वेदिक दवाओं का वितरण किया जाता है। उमिया माता को कदवा पाटीदारों की कुलदेवी माना जाता है। इन समुदाय की इस मंदिर के प्रति विशेष मान्यता है। लगभग 1200 वर्ष पुराने इस मन्दिर का लगभग 100 साल पहले जीर्णोद्धार किया गया है। बता दें कि पिछले साल केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने उमिया माता धाम मंदिर और मंदिर परिसर की आधारशिला रखी थी। इसे 74 हजार वर्ग गज जमीन पर 1500 करोड़ रुपये की लागत से बनाया जाना है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने परियोजना की वर्चुअली आधारशिला भी रखी थी।

Also Read : Apartments Sales Report : एक करोड़ से ज्यादा कीमत के घरों की मांग 83 फीसदी बढ़ी

Also Read : Petrol Diesel Rates Today 9 April : लगातार तीसरे दिन नहीं बढ़े पेट्रोल डीजल के दाम

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtub

 

SHARE

MOST POPULAR