Tuesday, September 27, 2022
Tuesday, September 27, 2022
HomeBusinessभारतीय मूल के निवासी को स्टारबक्स ने दी बड़ी जिम्मेदारी, जानिए कौन...

भारतीय मूल के निवासी को स्टारबक्स ने दी बड़ी जिम्मेदारी, जानिए कौन है वो?

Laxman Narasimhan appointed new CEO of Starbucks

इंडिया न्यूज,नई दिल्ली। कॉफी हाउस की मल्टीनेशनल चेन स्टारबक्स (Starbucks) ने काफी पीना किसको नहीं पसंद है। अगर कोई स्टारबक्स की काफी पीना चाहता है। हालांकि क्या आपको पता है कि स्टारबक्स अपने बिजनेस मॉडल को और गाति देने के लिए किस को चुना है। स्टारबक्स ने अपने बिजनेस मॉडल को गाति देने के लिए एक भारतीय मूल निवासी पर अपना भरोसा कायम किया है। कंपनी ने कंपनी ने भारतीय मूल के लक्ष्मण नरसिम्हन को अपना नया मुख्य कार्यकारी अधिकारी यानी (सीईओ) नियुक्त किया है।

अक्टूबर में ज्वाइन करेंगे कंपनी

स्टारबक्स के बने नए सीईओ लक्ष्मण नरसिम्हन की उम्र 55 साल है। वह स्टारबक्स  में 1 अक्टूबर, 2022 को कंपनी में शामिल होंगे। इससे पहले नरसिम्हन ने लाएसोल एंड इन्फामिल बेबी, यूके स्थित Reckitt Benckiser Group PLC के चीफ के तौर पर काम करने का अनुभव रहा है।

नरसिम्हन के तौर पर मिला असाधारण व्यक्ति

स्टारबक्स के नए सीईओ की नियुक्त पर कंपनी के बोर्ड के अध्यक्ष मेलोडी हॉब्सन ने कहा कि हमे कंपनी के सीईओ के तौर पर हमें एक असाधारण व्यक्ति मिला है। ऐसा कंपनी उम्मीद करती है कि वह यहां उल्लेखनीय काम करेंगे। लक्ष्मण नरसिम्हन 1 अप्रैल 2023 तक स्टारबक्स के इंटरिम CEO हॉवर्ड शुल्त्स के साथ मिलकर काम करेंगे। इसके बाद लक्ष्मण अपना CEO रोल अपनाएंगे और कंपनी के बोर्ड में शामिल होंगे।

हावर्ड शूल्ट्ज बने रहेंगे अंतरिम सीईओ

आगे हॉब्सन ने कहा कि नए सीईओ चुनने के बाद भी कंपनी ने हावर्ड शूल्ट्ज को अप्रैल 2023 तक अंतरिम सीईओ के तौर पर काम करने को कहा है। कंपनी ने यह कदम इसलिए उठाया है कि वह नए सीईओ की जरूरत पड़ने पर मदद कर सके। कंपनी को अपनी ग्रोथ पाने के लिए वर्कर्स की जरूरत है।

20 हजार नए कैफे खोलने का लक्ष्य

उन्होंने कहा कि स्टारबक्स का लक्ष्य है कि इस दशक तक दुनियाभर में 20000 नए कैफे खोलना है। इसके साथ ही, कंपनी को अपना इन्वेस्टर्स के सेंटीमेंट को भी सुधारना है।

कई बड़ी कंपनियों के साथ काम करना है अनुभव

लक्ष्मण नरसिम्हन ने अपनी ग्रेजुएट की पढ़ाई भारत से पुणे यूनिवर्सिटी के की है। उसके बाद उन्होंने पेन्सिल्वेनिया यूनिवर्सिटी के लाउडर इंस्टीट्यूट से जर्मन और इंटरनेशनल स्टडीज से मास्टर डिग्री की है। उन्होंने सितंबर 2019 में Reckitt ज्वाइन किया था।  कोरोना महामारी के दौरान उन्होंने कंपनी की काफी मदद की थी। इसके अलावा वह दुनिया के कई बड़ी कंपनियों के साथ भी काम कर चुके हैं।

इसको भी पढ़ें:

इसे पढ़ें: राकेश झुनझुनवाला के निधन पर पीएम मोदी समेत देश की प्रमुख हस्तियों ने किया याद, आज शाम पांच बजे मालाबार हिल होगा अंतिम संस्कार

Connect With Us: Twitter | Facebook |Instagram Youtube

SHARE
Koo bird

MOST POPULAR