Tuesday, May 24, 2022
Tuesday, May 24, 2022
HomeBusinessकेनेस इलेक्ट्रोनिक ला रही आईपीओ, सेबी के दस्तावेज जमा, 650 करोड़ के...

केनेस इलेक्ट्रोनिक ला रही आईपीओ, सेबी के दस्तावेज जमा, 650 करोड़ के फ्रेश शेयर होंगे जारी Upcoming IPO

इंडिया न्यूज,नई दिल्ली। 

इलेक्ट्रोनिक सिस्टम डिजाइनिंग फील्ड की कंपनी केनेस इलेक्ट्रोनिक अपना आईपीओ (Upcoming IPO) लाने जा रही है। कंपनी इस आईपीओ के तहत 650 करोड़ रुपए के फ्रेश शेयर जारी करेगी। इसके अलावा प्रमोटर और शेयरधारक अपने 72 लाख शेयर की बिक्री करेगी। कंपनी आईपीओ के लिए बाजार नियामक सेबी के पास दस्तावेज जमा कर दिये हैं।

प्रमोटर और शेयरधारक के बेचेगी शेयर

मिली जानकारी से अनुसार, कंपनी जिन प्रमोटर और शेयरधारक अपने 72 लाख शेयर बेचेगी। इसमें रमेश कुनिकनन अपने 37 लाख शेयर बेचेंगे जबकि फ्रेनी फिरोज ईरानी 35 लाख शेयर शामिल हैं। कंपनी के आईपीओ को डीएएम कैपिटल एडवाइजर्स और आईआईएफएल सिक्योरिटीज मैनेज करेंगी।

कंपनी का काम

Kaynes इलेक्ट्रॉनिक मैन्यूफैक्चरिंग कंपनी है। यह कंपनी इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम डिजाइनिंग और मैन्यूफैक्चरिंग सर्विसेस का कारोबार करती है। इसके अलावा कंपनी ऑटोमोटिव, इंडस्ट्रीयल, एयरोस्पेस, डिफेंस, आउटरस्पेस, न्यूक्लियर, मेडिकल, रेलवे, इंटरनेट ऑफ थिंग्स, इंर्फोमेशन टेक्नोलॉजी और दूसरे सेक्टरों को अपनी सेवाएं देती है। कंपनी का भारत सहित दुनिया के 20 देशों में कारोबार है।

कंपनी का वित्त प्रदर्शन

कंपनी के वित्त वर्ष पर नजर डालें तो  2021 के वित्त वर्ष में कंपनी ने 420.63 करोड़ रुपये कमाए थे,जो वित्त वर्ष 2020 में 368.24 करोड़ रुपये थी। वित्त वर्ष 2021 में कंपनी का मुनाफा 9.73 करोड़ रुपये था,  जबकि वित्त वर्ष 2020 में ये 9.36 करोड़ रुपये था।

इन जहगों पर होगा आईपीओ के पैसा का इस्तेमाल

आईपीओ से मिली राशि का कंपनी इस्तेमाल कर्च चुकाने के लिए करेगी। कंपनी के ऊपर 213 करोड़ रुपए का कर्ज है। आईपीओ से मिली राशि से 130 करोड़ रुपए का इस्तेमाल कर्ज चुकाने के लिए होगा,जबकि 98.93 करोड़ रुपए का इस्तेमाल कंपनी मैसूर और मानेसर स्थित उत्पादन इकाईयों के विस्तार में खर्च करेगी। कंपनी की कर्नाटक, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, तमिलनाडु और उत्तराखंड में कंपनी की 8 उत्पादन ईकाईयां है।

149 करोड़ रुपए नए उत्पादन इकाई पर करेगी खर्च (Upcoming IPO)

इसके अलावा 149 करोड़ रुपए का उपयोग कंपनी कर्नाटक में लगाई जा रही एक नई उत्पादन इकाई में करेगी। वहीं, शेष आईपीओ के जुटाए गए पैसा का उपयोग में से 114.74 करोड़ रुपए का इस्तेमाल कंपनी के वर्किंग कैपिटल जरुरतों को पूरा करने में किया जाएगा।  दिसंबर 2021 तक कंपनी को 253.92 करोड़ रुपए के शुद्ध वर्किंग कैपिटल की जरूरत थी।

Also Read : पेट्रोल डीजल से राहत, नहीं बढ़े इतने दिन से दाम, फटाफट चेक करें आज का भाव Today Petrol Diesel Price

Also Read : रविवार को दिल्ली वासियों को नहीं मिलेगी मेट्रो सेवा, जानें किस लाइन पर नहीं चलेगी मेट्रो,क्या है वजह? Delhi Metro News

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

SHARE

MOST POPULAR