Friday, December 9, 2022
Friday, December 9, 2022
HomeBusinessतीन साल बाद फिर आकाश में उड़ाने को तैयार जेट एयरवेज, मिली...

तीन साल बाद फिर आकाश में उड़ाने को तैयार जेट एयरवेज, मिली सिक्योरिटी क्लियरेंस

- Advertisement -

इंडिया न्यूज,नई दिल्ली। 

गत तीनों सालों से बंद पड़ी जेट एयरवेज (Jet Airways) एक बार फिर देश में कमर्शियल उड़ान भरने की तैयारी कर रही है। हाल ही में इस एयरवेज कंपनी को गृह मंत्रालय की ओर से सुरक्षा मंजूरी की अनुमति प्रदान की गई है। यह अनुमति मिलने के बाद एयरलाइन ने 5 मई को जेट एयरवेज ने हैदराबाद से दिल्ली के लिए परीक्षण उड़ान का संचालन किया है। इस परीक्षण उड़ान के माध्य से कंपनी ने DGCA को यह साबित किया है कि उसके विमान और उसके सभी पुर्जें पहले की तरह सामान्य रूप से काम कर रहे हैं।

06 मई को मिला सिक्योरिटी क्लियरेंस

जेट एयरवेज कंपनी को नागरिक उड्डयन मंत्रालय (Civil Aviation Ministry) ने 6 मई को एक पत्र के जरिये गृह मंत्रालय द्वारा सिक्योरिटी क्लियरेंस देने की जानकारी दी है। हालांकि भविष्य में गृह मंत्रालय से प्राप्त किसी भी प्रतिकूल इनपुट के आलोक में सिक्योरिटी मंजूरी को कभी वापस लिया जा सकता है।

अब जालान-कलरॉक कंसोर्टियम हैं प्रमोटर

मौजूदा समय जेट एयरवेज जालान-कलरॉक कंसोर्टियम (Jalan-Kalrock Consortium) के प्रमोटर है। कंपनी ने 17 अप्रैल 2019 को अंतिम उड़ान भारी थी। इससे पहसे जेट एयरवेज (Jet Airways) का स्वामित्व नरेश गोयल के पास था। दो दशक से अधिक समय तक फ्लाइट सर्विस देने के बाद फाइनेंशियल संकट की वजह से जेट एयरवेज को 17 अप्रैल 21019 को अपना ऑपरेशन बंद करना पड़ा था। एयरवेज के ऊपर भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के नेतृत्व में एक संघ ने 8,000 करोड़ रुपये से अधिक के बकाया था। कर्ज न चुकाने पाने के लिए बैंक ने जून 2019 को बैंक ने कंपनी के खिलाफ एक दिवाला याचिका दायर की थी।

जुलाई-सितंबर में शुरु करेगी घरेलू उड़ान

हालांकि कंपनी के नए CEO ने संजीव कपूर ने बीते दिन पहले कहा था कि एयर ऑपरेटर्स सर्टिफिकेट के रिन्यूअल के बाद कंपनी जुलाई-सितंबर तिमाही में ही उड़ाने शुरू करने की योजना बना रही है। कंपनी को उम्मीद है कि सर्टिफिकेट मई की शुरुआत में मिल सकता है।

एयरलाइन की लेनदारों की समिति (CoC) ने अक्टूबर 2020 में यूके की कलरॉक कैपिटल और संयुक्त अरब अमीरात स्थित उद्यमी मुरारी लाल जालान के संघ द्वारा प्रस्तुत समाधान योजना (resolution plan) को मंजूरी दी। नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल से भी जून 2021 में समाधान योजना की मंजूरी मिली चुकी है।

ये पढ़ें:  शेयर बाजार: सेंसेक्स 612 अंक गिरकर 54223 पर खुला, निफ्टी 16000 के पार, Axis Bank टॉप लूजर

ये पढ़ें: एएएचएल ने जुटाए एससीबी और ईसीबी से 25 करोड़, विश्व में सबसे बड़ा हवाईअड्डा बनाने पर देगी ध्यान

ये पढ़ें:  Fourth Quarter में रिलायंस इंडस्ट्री ने कमाए 16,203 करोड़ रुपए, जियो के मुनाफे में 34 फीसदी का हुआ शुद्ध लाभ, देगी डिवेडिंट

Connect With Us: Twitter | Facebook Youtube

SHARE
Koo bird

MOST POPULAR