Monday, January 30, 2023
Monday, January 30, 2023
HomeBusinessJapan PM India Visit : जापान के पीएम भारत पहुंचे, 42 बिलियन...

Japan PM India Visit : जापान के पीएम भारत पहुंचे, 42 बिलियन डॉलर के निवेश की कर सकते हैं घोषणा

- Advertisement -

Japan PM India Visit
इंडिया न्यूज, नई दिल्ली:

जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा (Japanese Prime Minister Fumio Kishida) आज अपने 2 दिवसीय दौरे के लिए भारत आए। फुमियो किशिदा 19 और 20 मार्च को नई दिल्ली में रहेंगे। आज वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे। इसके बाद वे 14वें भारत-जापान वार्षिक शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे।

जापान मीडिया के मुताबिक इस मुलाकात के दौरान जापान भारत में अगले 5 वर्षों में 42 बिलियन डॉलर यानी 5 ट्रिलियन येन के भारी भरकम निवेश की घोषणा कर सकता है। साल 2014 में जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे भारत आए थे।

उन्होंने अगले 5 सालों में 3.5 ट्रिलियन येन के निवेश का ऐलान किया था। जापान भारत के अर्बन इन्फ्रास्ट्रक्चर और हाई स्पीड बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट में निवेश और मदद कर रहा है। अत: अब भारत यात्रा के दौरान फुमियो किशिदा मजबूत सैन्य सहयोग और चीन की बेल्ट एंड रोड के विकल्प का प्रस्ताव रख सकते हैं।

बता दें कि फुमियो किशिदा का जापान के प्रधानमंत्री बनने के बाद यह पहला भारत दौरा है और पहली बार पीएम मोदी से मिलेंगे। हैदराबाद हाउस में दोनों प्रधानमंत्री के बीच मुलाकात होगी।

क्षेत्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय विषयों पर होगी चर्चा

इस बारे में भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि शिखर सम्मेलन में दोनों देशों के बीच क्षेत्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय विषयों पर चर्चा होगी। बागची ने कहा कि पिछले साल दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय और बहुपक्षीय भागीदारी देखी गई और भारत-जापान स्पेशल स्ट्रैटेजी और साझेदारी को और मजबूत किया गया। भारत और जापान के बीच विशेष रणनीतिक और अंतरराष्ट्रीय साझेदारी के दायरे में मल्टीडाइमेंशनल सहयोग है।

यूक्रेन संकट पर भी होगी बातचीत

इस दौरान वहीं यूक्रेन संकट को लेकर भी दोनों नेताओं के बीच बातचीत होगी। अपनी यात्रा से पहले पीएम किशिदा ने कहा कि इस यात्रा के दौरान रूस और यूक्रेन क्राइसिस पर भी चर्चा होगी। हम चाहते हैं कि भारत और जापान मिलकर इंटरनेशनल मुद्दों पर एकजुटता दिखाए। भारत और जापान दोनों देश दवअऊ के सदस्य हैं जिसका एक सदस्य अमेरिका भी है।

Also Read : Foreign Exchange Reserves में 9.6 अरब डॉलर की कटौती, 622 अरब डॉलर पर आया

Also Read : जानिए क्यों Foreign Investors भारतीय बाजार से निकाल रहे निवेश

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtub

MOST POPULAR