Thursday, October 6, 2022
Thursday, October 6, 2022
HomeBusinessसरकार ने खाद्य तेल की कीमतों को थमाने के लिए उठाया यह...

सरकार ने खाद्य तेल की कीमतों को थमाने के लिए उठाया यह कदम, जानिए क्या है कदम

इंडिया न्यूज,नई दिल्ली, Import Duty: भारत में पिछले कई महीनों से बढ़ी महंगाई परेशान जनता को केंद्र सरकार की ओर से एक और राहत मिली है। अभी सरकार ने देश में पेट्रोल-डीजल पर उत्पाद शुल्क में कटौती कर जनता राहत दी ही थी कि अब खाने के तेल में भी राहत देने का फैसला लिया है। केंद्र सरकार खाद्य तेल पर आयात शुल्क पर छूट दी है। सरकार के इस कदम से देश में खाद्य तेलों के दाम कम होंगे,जिससे लोगों को काफी राहत मिलेगी।

इतने साल नहीं लगेगा कोई कर

केंद्र सरकार की ओर से मंगलवार को जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक, सरकार एक साल तक सोयाबीन और सूरजमुखी तेल पर 20-20 लाख मीट्रिक टन आयात की छूट प्रदान की है। इसका मतलब सरकार इन साल की अवधि में सोयाबीन और सूरजमुखी तेल पर कोई कर नहीं लेगी। यह छूट 25 मई 2022 से 31 मार्च 2024 तक मिलेगी। सरकार ने कारोबारियों को दो साल तक छूट प्रदान की है। इसके अलावा सरकार ने सोयाबीन और सूरजमुखी के आयात पर लगने वाली इम्‍पोर्ट ड्यूटी के साथ एग्रीकल्‍चर डेवलपमेंट के 5 फीसदी सेस को भी खत्म कर दिया है। केंद्र सरकार के इस कदम से देश में आयातित खाद्य तेल की कीमतों कमी आएगी।

60 फीसदी खाद्य तेल होता आयात

भारत दुनिया से अपनी जरूरतों को 60 फीसदी खाद्य तेल अन्य देशों से आयात करता है। सबसे ज्यादा आयाता पॉम ऑयल और सोयाबीन का है। रूस-यूक्रेन युद्ध के चलते काला सागर क्षेत्र से आयात प्राभावित है,जिसकी वजह से देश में खाद्य तेल की कमी आ गई है और इसके दाम आसमान छू ने लगे हैं। फिलहाल केंद्र सरकार ने इसके आयात में छूट देकर जनता को बड़ी राहत प्रदान की है।

इसको भी पढ़ें:

आज के कारोबार में रुपया डॉलर के मुकाबले 5 पैसे बढ़ा

ये पढ़ें: Stock Market: तेजी पर खुला बाजार, सेंसेक्स 287 अंक चढ़ा, 16000 पार NIFTY, बैंक और फाइनेंशियल इंडेक्स टॉप गेनर्स

Connect With Us: Twitter | Facebook Youtube
SHARE
Koo bird

MOST POPULAR