Tuesday, February 7, 2023
Tuesday, February 7, 2023
HomeBusinessSemiconductor Chip अगर लंबे समय तक रुस और यूक्रेन के बीच अगर...

Semiconductor Chip अगर लंबे समय तक रुस और यूक्रेन के बीच अगर युद्ध चला तो वैश्विक बाजार में खड़ा कर सकता है चिप संकट, इस रिपोर्ट में हुआ खुलासा

- Advertisement -

इंडिया न्यूज,नई दिल्ली।  

Semiconductor Chip: रूस और यूक्रेन के बीच जारी सैन्य संघर्ष के कारण वैश्विक स्तर पर पहले से बाधित आपूर्ति श्रृंखला के और प्रभावित होने की आशंका है। सबसे बुरा प्रभाव जारी चिप संकट पर पड़ सकता है। इसका खुलासा मूडीज एनालिटिक्स की एक रिपोर्ट में शुक्रवार को हुआ है।

सेमीकंडक्टर के बनाने में आता है कच्चे माल का उपयोग (Semiconductor Chip)

रिपोर्ट में कहा गया है कि रुस द्वारा यूक्रेन पर किए गए सैन्य हमले के बाद अंतरराष्ट्रीय बाजार में उत्पन्न हुई आर्थिक हालात के असर कारोबार में व्यापक प्रभाव पड़ रहा है और पड़ेगा। इतना ही नहीं, सबसे बड़ा प्रभाव प्रभाव चिप की कमी पर पड़ेगा। इन दोनों देशों की प्रमुख कच्चे माल की आपूर्ति में बड़ी हिस्सेदारी है, जो सेमीकंडक्टर बनाने में काम आता है।

रुस 44 व यूक्रेन 70 फीसदी करता है पैलेडियम की वैश्विक आपूर्ति (Semiconductor Chip)

रिपोर्ट के अनुसार, रूस की पैलेडियम की वैश्विक आपूर्ति में 44 प्रतिशत हिस्सेदारी है, जबकि यूक्रेन नियोन की वैश्विक आपूर्ति में 70 प्रतिशत का योगदान देता है। इन दोनों कच्चे माल का इस्तेमाल प्रमुखता से चिप बनाने में किया जाता है। रिपोर्ट में कहा कि अगर रूस और यूक्रेन के बीच सैन्य संकट गहराता है, तो चिप संकट के बुरी तरह प्रभावित होने के आसार है।

कई उद्योग में होता है सेमीकंडक्टर का इस्तेमाल (Semiconductor Chip)

आपको बता दें कि पैलेडियम और नियोन, सेमीकंडक्टर चिप उत्पादन के प्रमुख घटक है। इनका इस्तेमाल लगभग हर उद्योग में होता है। जैसे कि मोटर वाहन, मोबाइल फोन और उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स समेत कई उद्योग शामिल हैं।

Also Read : Share Market Open : नहीं थम रही बिकवाली, सेंसेक्स 1100 अंक लुढ़का

Also Read : LIC ने सुनील अग्रवाल को नियुक्त किया चीफ फाइनेंशियल आफिसर

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

MOST POPULAR