Saturday, May 21, 2022
Saturday, May 21, 2022
HomeBusinessGst On Footwear: 1000 से कम कीमत वाले फुटवियर पर लगे 5...

Gst On Footwear: 1000 से कम कीमत वाले फुटवियर पर लगे 5 फीसदी जीएसटी दर, CAIT व IFA ने केंद्रीय वित्त मंत्री को लिखा पत्र

इंडिया न्यूज,नई दिल्ली।  

Gst On Footwear: फुटवियर इंडस्ट्री ने केंद्र सरकार से 31 दिसंबर, 2021 के पहले की ही तरह 1000 रुपये से कम कीमत वाले फुटवियर पर जीएसटी की दरों को 5 फीसदी तक ही सीमित रखने की गुहार लगाई है। इस संदर्भ में कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) और इंडियन फुटवियर एसोसिएशन (IFA) ने आज केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र लिखा है। इस पत्र में उन्होंने मांग की है कि सरकार 1000 रुपए से अधिक मूल्य वाले फुटवियर पर जीएसटी की दरें 12 फीसदी पर रख सकती है, लेकिन उसके कम की कीमतों को 5 फीसदी के जीएसटी के दायरे में ही रखे।

राज्यों के वित्त मंत्रियों के नाम पर भी ज्ञापन

इन मांगों को लेकर CAIT और IFA ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण) के अलावा सभी राज्यों के वित्त मंत्रियों को भी ज्ञापन भेजा है। जिसमें फुटवियर पर जीएसटी टैक्स स्लैब को 5 फीसदी तक रखने की मांग की है।

फुटवियर पर लागू हो BIS स्टैंडर्ड

जीएसटी दरों में छूट की मांग के अलावा CAIT और IFA ने केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल से फुटवियर पर BIS स्टैंडर्ड जारी करने का आग्रह किया है। इस संगठनों का कहना है कि सरकार 1000 रुपये से अधिक कीमत वाले फुटवियर पर ही BIS स्टैंडर्ड को लागू करें।

इस दर से प्रभावित हो रहें 85 फीसदी लोग

CAIT व IFA ने  इस पर तर्क दिया कि देश की लगभग 85 फीसदी आबादी 1000 रुपये कम कीमत के फुटवियर का इस्तेमाल करती है। इसलिए जीएसटी दरों (GST Slabs) में की गई बढ़त की मार सीधे 85 फीसदी लोगों पर पड़ेगी। देश में 90% फुटवियर का उत्पादन बड़े पैमाने पर छोटे और गरीब लोगों द्वारा किया जाता है। इस वजह से  भारत में फुटवियर निर्माण के बड़े हिस्से पर बीआईएस मानकों (BIS Standard) का पालन करना बेहद मुश्किल काम है।

यह उद्योग 30 लाख लोगों को दे रहा रोजगार (Gst On Footwear)

कैट ने  कहा कि भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा फुटवियर निर्माता है। यह उद्योग पूरे भारत में फैली दस हजार से अधिक निर्माण इकाइयां और लगभग 1.5 लाख फुटवियर व्यापारी 30 लाख से अधिक लोगों को रोजगार दे रहे हैं।

Also Read : एयर एशिया शुरू करेगा भारत से मलेशिया व थाईलैंड के बीच उड़ानें, जल्दी होंगी और सेवा बहाल

Also Read : देश में बेरोजगारी दर घटकर 7.6 फीसदी पर आई, सबसे ज्यादा बेरोजगारी 26.7 फीसदी हरियाणा में

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

SHARE

MOST POPULAR