Friday, December 9, 2022
Friday, December 9, 2022
HomeBusinessदेश का विदेशी मुद्रा भंडार फिर हुआ कम, एफसीए के साथ रिजर्व...

देश का विदेशी मुद्रा भंडार फिर हुआ कम, एफसीए के साथ रिजर्व गोल्ड भी घटा

- Advertisement -

Forex Reserves Fall

इंडिया न्यूज,नई दिल्ली। देश के विदेशी मुद्रा भंडार के लिहाज से बुरी खबर आई है। देश के विदेशी मुद्रा भंडार में फिरसे गिरावट दर्ज हुई है। यह गिरावट लगातार 2 सप्ताह की तेजी के बाद आई है। भारतीय रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने मिले आंकड़ों के मुताबि, 3 जून को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार रिजर्व कम होकर 601.057 अरब डॉलर पर आ गया। बीते सप्ताह देश के विदेशी मुद्रा भंडार में 30.6 करोड़ डॉलर की कमी आई है।

लगातार दो हफ्ते आई थी विदेश मुद्रा भंडार में तेजी

इस गिरावट के बाद भी देश का विदेशी मुद्रा भंडार 600 अरब डॉलर के पार बना हुआ है। गौरतलब है कि इससे पहले लगातार 10 सप्ताह की गिरावट के चलते एक माह तक यह 600 अरब डॉलर के नीचे चला गया था। उसके बाद 20 और 27 मई को लगातार 2 सप्ताह के दौरान इसमें तेजी आई थी। इससे पिछले सप्ताह, विदेशी मुद्रा भंडार 3.854 अरब डॉलर बढ़कर 601.363 अरब डॉलर हो गया था, जबकि 20 मई को समाप्त सप्ताह में यह 4.23 अरब डॉलर की बढ़ोतरी के साथ 597.509 अरब डॉलर पर पहुंच गया था।

एफसीए में 20.8 करोड़ डॉलर की गिरावट

आरबीआई के मुताबिक, 3 जून को खत्म हुए सप्ताह में विदेशी मुद्रा आस्तियां (एफसीए) में भी गिरावट दर्ज हुई है। इसमें 20.8 करोड़ डॉलर की गिरावट आई है,जिसके बाद यह घटकर 536.779 अरब डॉलर रह गईं। वहीं डॉलर में अभिव्यक्त विदेशी मुद्रा भंडार में रखे जाने वाली विदेशी मुद्रा आस्तियों में यूरो, पौंड और येन जैसी गैर-अमेरिकी मुद्राओं में मूल्यवृद्धि अथवा मूल्यह्रास के प्रभावों को शामिल किया जाता है। इसके अलावा अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के साथ विशेष आहरण अधिकार (एसडीआर) 28 मिलियन डॉलर घटकर 18.41 अरब डॉलर हो गया।

गोल्ड रिजर्व घटा तो बढ़ा आईएमएफ में मुद्रा भंडार

समीक्षात्मक सप्ताह में देश के गोल्ड रिजर्व में भी गिरा है। प्राप्त आंकड़ों के मुताबिक गोल्ड रिजर्व का मूल्य 7.4 करोड़ डॉलर बढ़कर 40.843 अरब डॉलर रह गया। वहीं इंटरनेशनल मॉनेटरी फंड यानी एमआईएफ में देश का एसडीआर यानी स्पेशल ड्राइंग राइट 2.8 करोड़ डॉलर घटकर 18.41 अरब डॉलर रह गया। जबकि आईएमएफ में रखे देश का मुद्रा भंडार 50 लाख डॉलर बढ़कर 5.025 अरब डॉलर हो गया।

इसको भी पढ़ें:

मई में पैसेंजर्स गाड़ियों की बिक्री हुई दोगुनी, दोपहिया की भी मांग बढ़ी, ई-वाहन बिक्री में भी इजाफा

ये पढ़ें: पीएम मोदी ने किया बायोटेक स्टार्टअप एक्सपो-2022 का उद्धाटन, कहा: भारत बायोटेक के टॉप-10 देशों की लीग में पहुंचने से नहीं ज्यादा दूर

Connect With Us: Twitter | Facebook Youtube

SHARE
Koo bird

MOST POPULAR