Monday, September 26, 2022
Monday, September 26, 2022
HomeBusinessसरकार ने दी जनता को राहत, पेट्रोल में 8 व डीजल में...

सरकार ने दी जनता को राहत, पेट्रोल में 8 व डीजल में 6 रुपये कम किए उत्पाद शुल्क, उज्ज्वला योजना में 200रु की राहत

इंडिया न्यूज, New Delhi: Excise duty: बढ़ती महंगाई से परेशान जनता को केंद्र सरकार ने बड़ी राहत प्रदान की है। गत 6 अप्रैल से स्थिर राष्ट्रीय स्तर पर पेट्रोल-डीजल के दाम के बीच केंद्र सरकार ने शानिवार इससे उत्पाद शुल्क में बड़ी कटौती की है। उप्ताद शुल्क में कटौती के बाद नई पेट्रोल डीजल की कीमतें शानिवार रात 12 बजे से देश भर में लागू हो जाएंगी। हालांकि इससे सरकार को राजस्व पर ₹1 लाख रुपए का सालाना असर होगा।

पेट्रोल पर 8 व डीजल  पर 6 रुपए होंगे कम  

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार देशवासियों को राहत प्रदान करते हुए पेट्रोल पर केंद्रीय उत्पाद शुल्क में 8 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 6 रुपये प्रति लीटर की कमी कर रहे हैं। इससे पेट्रोल की कीमत 9.5 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 7 रुपये प्रति लीटर कमी आएगी।

देश के चार महानगरों का पेट्रोल डीजल का वर्तमान भाव 

फिलहाल, इस समय देश के चार प्रमुख महानगर के शहरों में पेट्रोल के दाम 100 के पार चल रहे हैं। इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (IOCL) के मुताबिक, देश की राजधानी दिल्ली में आज पेट्रोल 105.41 रुपए और डीजल 96.67 रुपये प्रतिलीटर। इसके अलावा मुंबई में पेट्रोल 120.51 रुपये और डीजल 104.77 रुपये में बिक रहा है, जोकि चार महानगरों में सबसे महंगा रेट है। कोलकाता में  पेट्रोल 115.12 रुपये व डीजल 99.83 रुपये पर बनी हुई हैं, जबकि चेन्नई में पेट्रोल 110.85 रुपये और डीजल 100.94 रुपये प्रतिलीटर के भाव से मिल रहा है। वहीं, उत्पाद शुल्क में कटौती के बाद आज रात 12 बजे इन जहगों पर वाहन ईंधन के भाव में कमी आ जाएगी।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना 200 रु की राहत

आगे सीतारमण ने कहा कि सरकार प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के 9 करोड़ से अधिक लाभार्थियों को 200 रुपये प्रति गैस सिलेंडर (12 सिलेंडर तक) की सब्सिडी देनी की घोषणा की है। इससे सब्सिडी से हमारी माताओं और बहनों को काफी मदद मिलेगी।

पीएम मोदी ने राज्यों को दे थी एक्साइज ड्यूटी कम करने की सलाह

बाते दें कि पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता को महंगाई से राहत प्रदान करने के लिए राज्यों को अपने यहां वाहन ईंधन पर एक्साइज ड्यूटी (Excise Duty) कम करने की सलाह दी थी। हालांकि, कुछ राज्यों ने ही पिछले दिनों वैट में कटौती की थी। उसके बाद भी अधिकांश राज्यों में वैट ज्यादा है। निर्मला सीतारमण ने कहा कि हम राज्यों से उम्मीद करते हैं, जिन्होंने नवंबर 2021 के बाद से कोई कटौती नहीं की है, वो भी आम जनता को थोड़ी राहत देंगे।

ये पढ़ें:  …महंगाई डायन खाए जात है! CNG की कीमतों फिर हुआ इजाफा, 1KG पर चुकानें होंगे इतने रुपये

Connect With Us: Twitter | Facebook Youtube
SHARE
Koo bird

MOST POPULAR