Tuesday, February 7, 2023
Tuesday, February 7, 2023
HomeAssembly Election 2022Akhilesh Yadav Meet Mulayam Singh चुवान में मिली हार के बाद पहली...

Akhilesh Yadav Meet Mulayam Singh चुवान में मिली हार के बाद पहली बार अखिलेश से मिलने पहुंचे मुलायम, दिया आर्शीर्वाद कहा, अच्छा लड़े तुम

- Advertisement -

इंडिया न्यूज, लखनऊ।  

Akhilesh Yadav Meet Mulayam Singh: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में समाजवादी पार्टी (सपा) को करारी मिली है।  पार्टी की हुई इस हार के बीच सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से उनके पिता, सपा के मुखिया और पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने मुलाकात की है। सपा के ऱाष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश से यह मुलाकात मुलायम ने रविवार समाजवादी पार्टी कार्यालय पहुंचकर की और इस दौरान मुलायम ने अपने पुत्र अखिलेश यादव को आशीर्वाद भी दिया।

मुलायम ने दिया अखिलेश को आशीर्वाद (Akhilesh Yadav Meet Mulayam Singh)

इस मुलाकात के दौरान मुलायम सिंह यादव ने कहा ने कहा कि अखिलेश बहुत अच्छा लड़े तुम, बहुत-बहुत बधाई। उन्होंने नई उर्जा और उत्साह के साथ आगे लड़ने को कहा। यूपी विधानसभा चुनाव नतीजों के बाद पहली बार मुलायम सिंह यादव सपा दफ्तर पहुंचे।

21 को है सपा की विधायक दल की बैठक (Akhilesh Yadav Meet Mulayam Singh)

उधर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने 21 मार्च को सपा के नवनिर्वाचित विधायकों की बैठक बुलाई है। सभी नवनिर्वाचित विधायकों से तय तिथि और समय पर विधायक दल की बैठक के लिए लखनऊ स्थित सपा के दफ्तर पहुंचने के लिए कहा है।

इस बार सीटों में हुआ इजाफा (Akhilesh Yadav Meet Mulayam Singh)

यूपी की 403 विधानसभा सीटों में से 273 सीटें जीतकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेतृत्व वाले गठबंधन ने सत्ता में वापसी कर ली है। वहीं, समाजवादी पार्टी (सपा) के नेतृत्व वाले विपक्षी गठबंधन को 125 सीटों पर जीत मिली है। हलांकि पिछले यूपी विधानसभा चुनाव से इस बार सपा को अधिक सीटें प्राप्त हुई हैं।

दे सकते हैं विधायक से इस्तीफा (Akhilesh Yadav Meet Mulayam Singh)

सपा को विधानसभा चुनाव में मिली हार के बाद जीत हुए दो विधायक अखिलेश यादव और आजम खान विधायक पद से इस्तीफा देने का अनुमान लगाया है। अगर ऐसा हुआ तो पार्टी को दो सीटों का नुकसान भी हो सकता है। अखिलेश और आजम निर्वाचित विधायक से साथ लोकसभा के सदस्य भी हैं। ऐसे में उन्हें एक किसी एक पद रहना होगा और एक पद से इस्तीफा देना होगा।

बताया जा रहा है कि अखिलेश यादव और पार्टी के दिग्गज नेता आजम खान लोकसभा सदस्य बने रहेंगे।  अभी लोकसभा में समाजवादी पार्टी के केवल 5 सदस्य हैं और सियासी माहौल को देखते हुए पार्टी लोकसभा में कमजोर नहीं होना चाहती।  ऐसे में अखिलेश यादव और आजम खान विधानसभा सदस्य से इस्तीफा देने की संभावना बनी हुई है।

Also Read : FPI Withdrawals : विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने लगातार छठे महीने भारतीय शेयर बाजार में की बिकवाली

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

MOST POPULAR