Monday, February 6, 2023
Monday, February 6, 2023
HomeBusinessCultural Heritage: रोजगार प्रदान करना नहीं बल्कि सांस्कृतिक विरासत को बढ़ाना देना...

Cultural Heritage: रोजगार प्रदान करना नहीं बल्कि सांस्कृतिक विरासत को बढ़ाना देना है उद्देश्य: मेघवाल

- Advertisement -

इंडिया न्यूज,नई दिल्ली।  

Cultural Heritage: संस्कृति राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने गुरुवार को राज्य सभा में प्रश्नकाल के दौरान पूरक सवालों के जवाब देते हुए कहा कि रोजगार सृजन उनके मंत्रालय का उद्देश्य नहीं है और इसके जिम्मे सांस्कृतिक विरासत के साथ ही साहित्य, संगीत, नृत्य, दृश्य कला और नाटक का संरक्षण, विकास और प्रचार करना है।

सरकार प्रदान करती है रोजगार

उन्होंने कहा कि मंत्रालय का प्राथमिक कार्य भारतीय कला, संस्कृति, विरासत, साहित्य, संगीत, नृत्य और दृश्य कला को बढ़ावा देना और उनका संरक्षण करना है। रोजगार सरकार प्रदान करती है।

प्राथमिक उद्देश्य संस्कृति को बढ़ावा देना

मेघवाल ने कहा कि सरकार की विभिन्न गतिविधियां रोजगार के अवसर पैदा करने में मदद करती हैं। हम रोजगार भी मुहैया कराते हैं, लेकिन हमारा प्राथमिक उद्देश्य संस्कृति को बढ़ावा देना है।

रोजगार के मामले पर तृणमूल का पलटवार (Cultural Heritage)

वहीं, तृणमूल कांग्रेस के जवाहर सरकार ने मेघवाल पर पटलवार करते हुए कहा कि मंत्री गलत जवाब देकर आंशिक रूप से गुमराह कर रहे हैं। संस्कृति मंत्रालय बड़े पैमाने पर रोजगार मुहैया कराता है।

Also Read : सेंसेक्स 89 अंक गिरकर 57,595 पर बंद, निफ्टी 22 अंक फिसला

Also Read : Ruchi Soya Industries का एफपीओ आज से खुला, जानिए इससे संबंधित सारी जानकारी

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtub

 

MOST POPULAR