Thursday, December 1, 2022
Thursday, December 1, 2022
HomeBusiness5जी स्‍पेक्‍ट्रम की नीलामी आज हुई शुरू, जानिए इससे जुड़ी अन्य बातें

5जी स्‍पेक्‍ट्रम की नीलामी आज हुई शुरू, जानिए इससे जुड़ी अन्य बातें

- Advertisement -

5G Spectrum Auction Begins

इंडिया न्यूज,नई दिल्ली। सरकार की मंशा है देश में जल्द से जल्द लोगों को हाथों में 5जी नेटवर्क आये है। इसको देखते हुए केंद्र सकार ने मंगलवार से 5जी स्‍पेक्‍ट्रम की नीलामी शुरू कर दी है। इस नीलामी की प्रक्रिया प्रक्रिया सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक दूरसंचार विभाग (डॉट) की देखरेख चलेगी। आज देश की दिग्गज दूरसंचार की कंपनियां 5जी स्‍पेक्‍ट्रम की नीलामी में बोलियां लगा रही हैं।

यह कंपनियां ले रहें भाग 

इस नीलामी में देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी रिलायंस जियो सहित भारती एयरटेल, वोडाफोन आइडिया और अडानी ग्रुप हिस्सा ले रही हैं। सरकार ने 5जी नेटवर्क के लिए 72 हजार मेगाहर्ट्ज के एयरवेव्‍स के लिए नीलामी कर रही रही है। इससे सरकार को 70,000 करोड़ रुपये से लेकर 1,00,000 करोड़ रुपये तक का रेवेन्यू मिलने की उम्मीद है। मिली जानकारी के मुताबिक पहली नीलामी से सरकार को करीब 1 लाख करोड़ रुपये मिलने के कायास लगाए जा रहे हैं।

अडानी नेटवर्क ने सबसे कम जमा की राशि

मिली जानकारी के मुताबिक, देश में 5जी सेवा के लिए शुरू हुई आज से स्‍पेक्‍ट्रम की नीलामी में सबसे अधिक राशि देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी रियालंस जियो ने जमा कराई है। जियो ने करीब 14 हजार करोड़ रुपये दूरसंचार विभाग (डॉट) के पास जमा किये हैं। वहीं, दुनिया व भारत के सबसे बड़े उद्योगपति गौतम अडानी के अडाणी ग्रुप की अडानी नेटवर्क सबसे कम 100 करोड़ रुपये की राशि जमा की है। दूसरे नंबर पर भारती एयरटेल है। इसने दूरसंचार विभाग 5,500 करोड़ रुपये जमा कराए हैं। वहीं, वोडा आइडिया ने 2,200 करोड़ रुपये जमा किये हैं।

इन मेगाहर्ट्ज व गीगाहर्ट्ज की होगी नीलामी

बता दें कि कें बीते दिनों केंद्रीय कैबिनेट की मंजूरी मिलने के बाद टेलीकॉम विभाग ने 8 जुलाई से 5जी स्पेक्ट्रम का आवेदन शुरू किया। इसके लिए देश में चार कंपनियां से आवेदन आए थे। 26 जुलाई से 5जी स्पेक्ट्रम नीलामी की शुरुआत हुई हैं और अनुमान है कि यह नीलामी दो दिनों तक चलेगी। सरकार 20 वर्षों की अवधि के लिए 72 गीगाहर्ट्ज से अधिक के 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी करेगी। इसमें 600, 700, 800, 900, 1,800, 2,100 और 2,300 मेगाहर्ट्ज बैंड का लो रेंज, 3300 मेगाहर्ट्ज बैंड का मध्यम रेंज और 26 गीगाहर्ट्ज बैंड का हाई रेंज वाला स्पेक्ट्रम की नीलामी करेगी।

अक्टूबर में हो सकती है शुरू

दूरसंचार विभाग (DoT) स्पेक्ट्रम नीलामी के बाद 15 अगस्त से देश में 5जी सेवा ट्रायल की शुरुआत कर सकता है। इसके पूरा होते है, भारत में अक्टूबर 2022 से 5जी सेवा लॉन्च की जा सकती है। इसमें राहत देने वाली बात यह है कि टेलीकॉम कंपनियों से 5जी SUC (Spectrum Usage Charges) नहीं लिया जायेगा।

2023 की शुरुआत में शुरू हो सकती सेवा 

इस नीलामी में शामिल भारती एयरटेल के मुख्‍य तकनीकी अधिकारी (CTO) रणदीप सेखों ने कहा कि आज स्‍पेक्‍ट्रम की नीलामी प्रक्रिया पूरी होने के बाद सबकुछ सही रहा तो साल 2022 के आखिर तक या 2023 की शुरुआत में एयरटेल के ग्राहकों को 5जी सेवा मिलनी शुरु हो जाएगी। हमारी कोशिश है कि स्‍पेक्‍ट्रम मिलने के 2 से 4 महीने के भीतर 5जी सेवा ग्राहकों तक पहुंचा देंगे.

पहले इन शहरों में शुरू हो सकती है सेवा

ऐसा अनुमान है कि भारत में 5जी सेवा की शुरुआत सबसे पहले दिल्ली, लखनऊ, चंडीगढ़, गुरुग्राम, अहमदाबाद, कोलकाता, जामनगर, गांधीनगर, हैदराबाद, मुंबई, पुणे, बेंगलुरु और चेन्नई में की जा सकती है।
क्या है 5G सेवा

यह इंटरनेट नेटवर्क की पांचवा जेनरेशन है,जिसको 5G कहा गया है। यह एक वायरलेस ब्रॉडबैंड इंटरनेट सेवा है, जो तरंगों (Waves) के जरिए हाई स्पीड इंटरनेट सर्विस उप्लब्ध कराती है। इसकी खासियत यह है कि 4G की अपेक्षा बेहद कम एरिया कवरेज में ज्यादा से ज्यादा लोगों को हाई स्पीड इंटरनेट सर्विस प्रदान करती है।

संबंधित खबरें:

Regular Flights प्रभावित अमेरिका व भारत की हवाई सेवा को एयर इंडिया ने फिर से किया शुरु, शुक्रवार से मिलेगी नियमित फ्लाइट्स

इसे पढ़ें: नहीं रहे पद्म भूषण से सम्मानित देश के दिग्गज कारोबारी पालोनजी मिस्त्री, मुंबई में ली आखिरी सांस

Connect With Us: Twitter | Facebook |Instagram Youtube

SHARE
Koo bird

MOST POPULAR