Saturday, May 21, 2022
Saturday, May 21, 2022
HomeAutomobileSubsidy On E-Cycle : ई-साइकिल पर मिल रही 5500 रुपए की सब्सिडी,...

Subsidy On E-Cycle : ई-साइकिल पर मिल रही 5500 रुपए की सब्सिडी, जल्दी करें, पहले 10 हजार खरीदारों को ही मिलेगा योजना का लाभ

Subsidy On E-Cycle

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली:
पेट्रोल और डीजल की आसमान छूती कीमतों से राहत देने के लिए दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार लोगों के लिए एक खास तरह की स्कीम लेकर आई है। दिल्ली सरकार (Delhi govt) ने एलान किया है कि वह ई-साइकिल (E-cycles) के पहले 10 हजार खरीदारों को 5,500 रुपये की सब्सिडी देगी।

दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने ऐलान किया है कि दिल्ली सरकार शहर में ई-साइकिल (E-cycles) के पहले 10,000 खरीदारों को 5,500 रुपए की सब्सिडी देगी। यात्री ई-साइकिल के पहले एक हजार खरीदारों को 2,000 रुपये की अतिरिक्त सब्सिडी भी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि दिल्ली देश में ई-साइकिल सेगमेंट में सब्सिडी देने वाली पहली राज्य सरकार बन गई है।

दिल्ली सचिवालय में पत्रकार वार्ता के दौरान कैलाश गहलोत ने कहा कि सरकार व्यावसायिक उपयोग के लिए भारी शुल्क वाले कार्गो ई-साइकिल और ई-कार्ट की खरीद पर भी सब्सिडी देगी। पहले पांच हजार खरीदारों के लिए कार्गो ई-साइकिल पर सब्सिडी 15,000 रुपये होगी।

पहले ई-कार्ट का व्यक्तिगत उपयोग करने वाले खरीदारों को सब्सिडी दी जाती थी लेकिन अब कंपनी अथवा कारपोरेट घरानों को भी 30,000 रुपये की सब्सिडी दी जाएगी। केवल दिल्ली के निवासी ही इस योजना के लिए पात्र होंगे। बता दें कि दिल्ली सरकार की इस स्कीम से न केवल लोगों को राहत मिलेगी बल्कि इलेक्ट्रिक व्हीकल्स के इस्तेमाल को भी बढ़ावा मिलेगा।

उन्होंने कहा कि यात्री ई-साइकिल (E-cycles) के पहले 1,000 खरीदारों को भी 2,000 रुपये की अतिरिक्त सब्सिडी दी जाएगी। सरकार व्यावसायिक उपयोग के लिए भारी शुल्क वाले कार्गो ई-साइकिल और ई-कार्ट की खरीद पर भी सब्सिडी देगी। पहले 5,000 खरीदारों के लिए कार्गो ई-साइकिल पर सब्सिडी 15,000 रुपए होगी।

दिल्लीवालों के लिए है स्कीम (Subsidy On E-Cycle)

परिवहन मंत्री ने कहा कि पहले ई-कार्ट के व्यक्तिगत खरीदारों को सब्सिडी दी की जाती थी लेकिन अब इन वाहनों को खरीदने वाली कंपनी या कॉरपोरेट घरानों को भी 30,000 रुपये की सब्सिडी प्रदान की जाएगी. गहलोत ने कहा कि केवल दिल्ली के निवासी ही सब्सिडी योजना के लिए पात्र होंगे।

Also Read : आरबीआई ने नहीं किया रेपो रेट में बदलाव

Also Read : देश में बेरोजगारी दर घटकर 7.6 फीसदी पर आई, सबसे ज्यादा बेरोजगारी 26.7 फीसदी हरियाणा में

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

SHARE

MOST POPULAR